ब्रेकिंग न्यूज़
चीन से कच्चे माल की आपूर्ति में व्यवधान के संबंध में वित्त मंत्री ने उच्च स्तरीय बैठक बुलाईजम्मू-कश्मीर में पंचायत उपचुनाव सुरक्षा मुद्दों और क्षेत्रीय राजनीतिक दलों की अनिच्छा के कारण स्थगितअशरफ गनी अफगानिस्तान के नए राष्ट्रपति चुने गएबिहार के गया में कोरोना वायरस के एक संदिग्ध मरीज को देखरेख के लिए अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में कराया गया भर्तीऔरंगाबाद में रफीगंज-शिवगंज पथ पर तेज रफ्तार ट्रक ने ऑटो में मारी टक्कर, दो मासूमों सहित 10 लोगों की मौतनफरत को खत्म करने, संविधान को बचाने, एन आर सी, सी ए ए जैसे काले कानून के खिलाफ भारत के गंगा-जमुनी तहजीब का नमूना है शाहीन बाग: पप्पू यादवधार्मिक कार्यक्रम में जा रहे हजारों भारतीयों को नेपाल ने करोना वायरस की आशंका से गुरुवार की रात्रि रोका, वार्ता के बाद आज मिली एन्ट्रीपुलवामा हमले के शहीदों को राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दी श्रद्धांजलि
राज्य
रायबरेली में योगी ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा-कांग्रेस की देन है आतंकवाद, नक्सलवाद और जातिवाद
By Deshwani | Publish Date: 3/5/2019 2:26:25 PM
रायबरेली में योगी ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा-कांग्रेस की देन है आतंकवाद, नक्सलवाद और जातिवाद

रायबरेली। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज रायबरेली में एक जनसभा के दौरान कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को यह जवाब देना चाहिए कि 55 वर्षों में उन्होंने देश को क्या दिया। कांग्रेस की देन केवल आतंकवाद, नक्सलवाद और केवल जातिवाद है। 

 
भाजपा उम्मीदवार दिनेश प्रताप सिंह के समर्थन में शहर के जीआईसी मैदान में आयोजित जनसभा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गरीबी, भुखमरी और किसानों की उपेक्षा ही कांग्रेस की देन रही है। भारत का हो रहा विकास इन्हें अच्छा नहीं लग रहा है।
 
उन्होंने गांधी परिवार पर हमला बोलते हुए कहा कि ये लोग केवल पांच साल में एक बार रायबरेली और अमेठी आते हैं। जनता के सुख दुःख से इनका कोई लेना-देना नहीं है। इसलिए रायबरेली की जनता को इन्हें सबक सिखाना चाहिए जिस तरह से अजीत सिंह, लालू यादव, मुलायम सिंह यादव और एनडी तिवारी को यहां की जनता ने सबक सिखाया था। उन्होंने कहा कि जो रायबरेली की इज्ज़त नहीं करता, उसकी इज्ज़त करने की जरूरत नहीं है। रायबरेली केवल कहने के लिए वीवीआईपी जिला है लेकिन विकास नाम की कोई चीज यहां नहीं दिखती।
 
उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने कभी नौजवानों, गरीब, महिलाओं की रोजगार की बात ना करके केवल देश को छला है। यदि कांग्रेस को देश की चिंता होती तो नरेन्द्र मोदी को जनधन खाते नहीं खुलवाने पड़ते। कांग्रेस के शासनकाल में विकास के नाम पर जब 100 रुपये भेजे जाते थे तो 90 रुपये बिचौलियों को जाता था, जबकि भाजपा सरकार में ऐसा एक भी मामला सामने नहीं आया है। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS