ब्रेकिंग न्यूज़
ईरान कभी नहीं चाहता अमेरिका के साथ युद्ध: राष्ट्रपति हसन रूहानीकार और ट्रक की भीषण टक्कर में मुजफ्फरपुर के चार लोगों की मौत, एक अन्य घायलअमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ने की प्रधानमंत्री मोदी और विदेश मंत्री से की मुलाकातखुला विश्व प्रसिद्ध शक्तिपीठ कामाख्या मंदिर का कपाट, श्रद्धालुओं ने किए मां के दर्शनअगस्ता वेस्टलैंड केस: राजीव सक्सेना को सुप्रीम कोर्ट से झटका, विदेश जाने पर लगा रोकऔषधीय गुणों से युक्त कालमेघ का करें खेती, आय के साथ रोगों के लिए नहीं जाना पड़ेगा अस्पतालबाॅलीवुड अभिनेत्री करिश्मा कपूर ने शेयर की ऐसी फोटो, इंटरनेट पर मचा धमालहाईटेंशन की चपेट में आयी बस, चार यात्रियों की मौत, 27 झुलसे, परिजनों ने की सरकार से मुआवजा की मांग
राज्य
उत्तर प्रदेश: पहले चरण की आठ लोकसभा सीटों पर कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान जारी
By Deshwani | Publish Date: 11/4/2019 11:43:18 AM
उत्तर प्रदेश: पहले चरण की आठ लोकसभा सीटों पर कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान जारी

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के प्रथम चरण में पश्चिम उत्तर प्रदेश की आठ सीटों पर कड़ी सुरक्षा के बीच आज सुबह सात बजे मतदान प्रारम्भ हो गया। मतदान शाम छह बजे तक जारी रहेगा। हालांकि जो मतदाता मतदान केंद्रों पर छह बजे तक पहुंच जाएंगे वे भी वोट दे सकेंगे। प्रदेश की जिन आठ सीटों पर आज पहले चरण का मतदान हो रहा है, उनमें सहारनपुर, कैराना, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद और गौतमबुद्धनगर शामिल हैं। 

 
प्रथम चरण की इन आठ संसदीय सीटों के लिए कुल 96 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। सहारनपुर में कुल 11 उम्मीदवार, कैराना में 13, मुजफ्फरनगर में 10, बिजनौर में 13, मेरठ में 11, बागपत में 13, गाजियाबाद में 12 तथा गौतमबुद्ध नगर में कुल 13 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। इनमें महिला उम्मीदवारों की संख्या दस है।
 
इस चरण में मतदाताओं की कुल संख्या 1.50 करोड़ है, जिनमें 82.24 लाख पुरुष, 68.39 लाख महिला और 1014 तृतीय लिंग के मतदाता हैं। इनमें 18 से 19 वर्ष के युवा मतदाताओं की संख्या 273032 और 80 वर्ष से अधिक वरिष्ठ मतदाता 271565 हैं। इन निर्वाचन क्षेत्रों में कुल 6716 मतदान केंद्र तथा 16581 मतदेय स्थल स्थापित किए गए हैं। आठ सीटों पर 27530 ईवीएम की बैलेट यूनिट, 21249 कंट्रोल यूनिट और 22741 वीवीपैट मशीनें लगाई गई हैं। मतदान के लिए कुल 75,366 कर्मचारियों को तैनात किया गया है। प्रथम चरण के मतदान कार्य में 3263 हल्के वाहन और 3611 भारी वाहन लगाए गए हैं।
 
सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
पहले चरण के मतदान को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गए हैं। आठों संसदीय क्षेत्रों को 130 जोन व 1308 सेक्टर में बांट दिया गया है। इस चरण में 157 कंपनी पैरामिलिट्री फोर्स और 35 कंपनी पीएसी समेत एक लाख पांच हजार पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है।
 
मतदान केन्द्रों पर निगरानी के लिए 1220 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 254 जोनल मजिस्ट्रेट और 88 स्टैटिक मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं। आठ सामान्य पर्यवेक्षक, चार पुलिस पर्यवेक्षक, आठ व्यय पर्यवेक्षक और 40 सहायक व्यय पर्यवेक्षक तैनात हैं। 
 
इनके अतिरिक्त 1751 माइक्रो ऑब्जर्वर भी तैनात किए गए हैं। आचार संहिता के पालन और मतदान पर निगरानी के लिए 243 एमससीसी टीम, 434 स्टेटिक्स सर्विलांस टीम और 434 फ्लाइंग स्क्वायड टीम का गठन किया गया है। इसके अलावा 1581 बूथों पर डिजिटल कैमरे लगाए गए हैं, 816 पर वीडियो कैमरे और 1741 बूथों पर वेब कास्टिंग की जा रही है। 
 
राजधानी स्थित प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय के कंट्रोल रुम से भी मतदान प्रक्रिया की लगातार निगरानी की व्यवस्था की गई है। वहां पर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल0 वेंकटेश्वर लू समेत अन्य अधिकारी दिन भर मौजूद रहेंगे।
 
इन दिग्गजों के भाग्य का फैसला आज
पहले चरण के मतदान में कई दिग्गजों के भाग्य का फैसला आज होने हैं। इनमें राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के मुखिया और पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी अजित सिंह, उनके बेटे जयंत चैधरी और तीन वर्तमान केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह, डा0 महेश शर्मा और सत्यपाल सिंह भी शामिल हैं। रालोद प्रमुख अजित सिंह मुजफ्फरनगर सीट पर सपा-बसपा-रालोद गठबंधन के उम्मीदवार हैं, तो उनके बेटे जयंत बागपत सीट से भाग्य आजमा रहे हैं। जयंत को निवर्तमान भाजपा सांसद सत्यपाल सिंह और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के चैधरी मोहकम कड़ा टक्कर दे रहे हैं। 
 
केंद्र सरकार के मंत्री और पूर्व सेना प्रमुख जनरल वीके सिंह अपनी पुरानी सीट गाजियाबाद से फिर भाजपा उम्मीदवार के रुप में चुनाव लड़ रहे हैं। उनका मुकाबला गठबंधन के सुरेश बंसल और कांग्रेस उम्मीदवार डॉली शर्मा से है। दूसरे केंद्रीय मंत्री डा0 महेश शर्मा एक बार फिर गौतमबुद्धनगर (नोएडा) सीट से भाजपा की तरफ से मैदान में हैं। 
 
उधर, सहारनपुर में भाजपा ने मौजूदा सांसद राघव लखन पाल पर ही विश्वास जताया है। उनका मुख्य मुकाबला कांग्रेस के इमरान मसूद से है। कांग्रेस सहारनपुर सीट को अपनी मानती है। यह सीट मुस्लिम बहुल्य मानी जाती है। गठबंधन की तरफ से यह बसपा के खाते में है और मायावती ने यहां से हाजी फजर्लुर रहमान को टिकट दिया है। वहीं शिवपाल ने अपने दल से मो0 उवैस को मैदान में उतारकर यहां की लड़ाई को बहुकोणीय बनाने की कोशिश की है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS