ब्रेकिंग न्यूज़
ड्रग्स मामला: रिया-शौविक की जमानत याचिका पर सुनवाई पूरी, बॉम्बे हाई कोर्ट ने फैसला रखा सुरक्षितमहागठबंधन से अलग हुआ रालोसपा, उपेंद्र कुशवाहा ने मायावती की बसपा के साथ मिलकर बनाया नया मोर्चाबिहारी मूल के निर्देशक अभिषेक के इस गाने मे पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे भी आ रहें हैं नज़रबिधान सभा चुनाव को लेकर रक्सौल पुलिस और नेपाल पुलिस अधिकारियों के बीच हुई बैठकहाथरस गैंगरेप पर प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर हमला बोला, कहा-यूपी में कानून व्यवस्था हद से ज्यादा बिगड़ चुकी हैगैंगरेप पीड़िता के भाई ने पुलिस पर लगाया लापरवाही का आरोप, आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा की मांग कीअयोध्या के विवादित ढांचा विध्वंस मामले में फैसला कल, अयोध्या समेत समूचे उत्तर प्रदेश में हाई अलर्टप्रधानमंत्री मोदी ने नमामि गंगे के तहत 521 करोड़ की परियोजनाओं का उत्तराखंड में किया लोकार्पण
राज्य
कुशीनगर में सरकारी विभागों पर लाखों का बिजली बिल बकाया
By Deshwani | Publish Date: 24/3/2019 8:21:10 PM
कुशीनगर में सरकारी विभागों पर लाखों का बिजली बिल बकाया

कुशीनगर। भानू प्रताप तिवारी।
 
कुशीनगर जिले के बिजली विभाग द्वारा बिल वसूली के लिए बकाएदारों को सरचार्ज माफी योजना का लाभ दिया जा रहा है। जिसका उद्देश्य अधिक से अधिक बिजली बिल की वसूली कर उपभोक्ताओं को अच्छी सुविधा देना है। बिजली बिल वसूली के लिए विभागीय अधिकारियों को पुलिस व तहसील प्रशासन की मदद भी लेनी पड़ती है। बिल न जमा करने पर बिल विच्छेदन की नौबत आने पर उपभोक्ताओं से नोक-झोंक व विवाद से बचने के लिए बिजली विभाग प्रशासन का सहारा लेता है।
 
 
पर वित्तीय वर्ष के पूरा होने में करीब एक सप्ताह ही शेष हैं। वहीं सरकारी विभाग ही बिजली विभाग का लाखों रुपये दबाए बैठें हैं। 1.44 लाख रुपये तहसीलदार हाटा, वहीं डिवीजन के 197 प्राथमिक विद्यालयों पर 51.16 लाख रुपये बिजली बिल बकाया है। इसी प्रकार जिले के स्वास्थ्य विभाग पर 1.67 करोड़ रुपये बिजली बिल बकाया है, जिसमें 75 लाख रुपये हाटा सीएचसी ही दबाए बैठी है। इसी प्रकार ब्लाक कार्यालयों पर 7 लाख रुपये से ऊपर बिजली बिल बकाया है। भुगतान की जिम्मेदारी मुख्य विकास अधिकारी कुशीनगर पर है। हाटा के एई गंडक के जिम्मे 5.56 लाख रुपये बिजली बिल तो रजिस्ट्री आफिस 2. 94 लाख रुपये का बकाएदार है। अधिशासी अभियंता हाटा एसके गुप्ता ने कहा कि सारे विभागों को नोटिस भेज दी गई है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS