ब्रेकिंग न्यूज़
हाजीपुर में पुलिस ने एक शराब माफिया को एनकाउंटर में मार गिराया, हथियार के साथ एक गिरफ्तारबिहार के औरंगाबाद में झंडातोलन करने जा रहे मुखिया पुत्र पर अपराधियों ने किया सरेआम फायरिंगपटना के मगध महिला कॉलेज में एक लफंगे ने राजनीति शास्त्र की छात्रा से सरेआम की छेड़खानीहाजीपुर में बदमाशों और पुलिस के बीच मुठभेड़, एक की मौत, बाल-बाल बचे डीएसपीसिवान के मैरवा में प्रसिद्ध होम्योपैथिक डॉक्टर की बाइक सवार अपराधियों ने हत्या कर दीजम्मू-कश्मीर के निलंबित पुलिस उपाधीक्षक दविंदर सिंह और चार अन्य अभियुक्तों को 15 दिन की हिरासत में भेजा गयामोतिहारी के बंजरिया में दवा दुकानदार की हत्या के मामले में पुत्रवधू सहित 4 गिरफ्तार, एक कृष्णनगर निवासी, कारतूस व आर्म्स जब्तबेतिया में अज्ञात महिला की ट्रेन की चपेट में आने से मौत, शिनाख्त में जुटी पुलिस
राज्य
2019 के आम चुनाव में टीएमसी-बीजेपी में होगी कड़ी टक्कर: मुकुल रॉय
By Deshwani | Publish Date: 8/3/2019 2:12:09 PM
2019 के आम चुनाव में टीएमसी-बीजेपी में होगी कड़ी टक्कर: मुकुल रॉय

कोलकाता। लोकसभा चुनाव में लोग सूबे की मुख्यमंत्री ममता के खिलाफ बीजेपी को वोट देंगे, क्योंकि राज्य में सत्ता विरोधी नहीं बल्कि ममता विरोधी लहर चल रही है। यह दावा बीजेपी के वरिष्ठ नेता और चुनाव प्रबंधन समिति के प्रभारी मुकुल रॉय ने किया है। 

 
उन्होंने कहा है कि राज्यभर में बड़ी संख्या में लोग ममता बनर्जी से नाराज हैं। उनकी हिंसक नीति, तानाशाह रवैया, दोहरा मापदंड, अल्पसंख्यक तुष्टिकरण, भ्रष्टाचार का संरक्षण और अन्य नीतियां लोगों को नागवार गुजर रही हैं और आम चुनाव में इसका परिणाम भी देखने को मिलेगा।
 
आज जारी एक बयान में मुकुल रॉय ने दावा किया है कि राज्य की 42 में से कम से कम 32 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी तृणमूल कांग्रेस को कड़ी टक्कर देगी। जो लोग भी ममता बनर्जी को नापसंद करते हैं, वे दूसरी पार्टियों की तुलना में भाजपा को वोट देंगे। क्योंकि कांग्रेस और माकपा के बजाय भाजपा आज राज्य में सत्ता का विकल्प है और तृणमूल से लड़ सकती है। उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस को 'सत्ता विरोधी' नहीं, बल्कि 'ममता विरोधी' भावनाओं की वजह से हार का मुंह देखना पड़ेगा।
 
उन्होंने कहा कि 2019 के आम चुनावों में पश्चिम बंगाल में बीजेपी और तृणमूल के बीच सीधी टक्कर होगी। बीजेपी को कांग्रेस और लेफ्ट पार्टियों के हिस्से का वोट भी मिलेगा। लोग प्रदेश में परिवर्तन चाहते हैं। तृणमूल कांग्रेस को लोकसभा चुनावों में करारा झटका लगने जा रहा है और उनकी सीटों की संख्या 25 से नीचे जा सकती हैं।
 
उल्लेखनीय है कि एक दौर में ममता बनर्जी के राजनीतिक चाणक्य रहे मुकुल रॉय ने वर्ष 2017 के नवंबर महीने में उनका साथ छोड़ दिया था और भाजपा का दामन थाम लिया था। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS