ब्रेकिंग न्यूज़
जानिए किस बात का है रानी मुखर्जी को बेसब्री से इंतजार, इंटरव्यू में कहा...विधानसभा चुनाव के बाद जयपुर में मतगणना को लेकर आयोग की तैयारियां पूरी16 दिसंबर को कांग्रेस के गढ़ रायबरेली जाएंगे प्रधानमंत्री मोदी, दे सकते हैं बड़ी सौगातकश्मीर में अलगाववादियों की हड़ताल से जन-जीवन प्रभावित, तनावपूर्ण हुआ माहौलभारत ने अग्नि 5 मिसाइल का किया सफल प्रायोगिक परीक्षणनिजामुद्दीन दरगाह में महिलाओं के प्रवेश को लेकर केंद्र और दिल्ली सरकार को नोटिसब्रिटेन से भारत प्रत्‍यर्पण के बाद इस जेल में बीतेंगी विजय माल्‍या की रातें, बैरक तैयारएनडीए से अलग होते ही कुशवाहा ने गिनाई गठबंधन की खामियां, नीतीश कुमार को भी घेरा
राज्य
मध्यप्रदेश: व्यापमं घोटाले के आरोपी को कांग्रेस ने बनाया महासचिव
By Deshwani | Publish Date: 5/12/2018 12:01:25 PM
मध्यप्रदेश: व्यापमं घोटाले के आरोपी को कांग्रेस ने बनाया महासचिव

भोपाल। मध्यप्रदेश में विधानसभा के लिए मतदान होने के बाद कांग्रेस ने पार्टी संगठन में पदाधिकारियों की नियुक्तियां शुरू कर दी हैं। नई नियुक्ति में संजीव सक्सेना को प्रदेश इकाई का महासचिव बनाया है, सक्सेना पिछले दिनों व्यापमं घोटाले में जेल में भी रहे हैं। पार्टी के प्रदेश संगठन के उपाध्यक्ष चंद्र प्रभाष शेखर की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की मंशानुसार संजीव सक्सेना को प्रदेश इकाई का महासचिव नियुक्त किया गया है।

 
सक्सेना व्यापमं मामले में जेल में रहे हैं। इससे पहले पार्टी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साले संजय मसानी को वारा-सिवनी से कांग्रेस का उम्मीदवार बनाया है। कांग्रेस हमेशा चौहान के रिश्तेदारों पर व्यापमं में शामिल होने का आरोप लगाती रही और फिर मसानी को उम्मीदवार बना दिया। पार्टी में इन फैसलों को लेकर सवाल उठ रहे हैं।
 
सक्सेना पार्टी के खिलाफ चुनाव लड़ने की तैयारी में थे और पार्टी ने उन्हें बड़ी जिम्मेदारी देने का वादा किया था। संभावना जताई जा रही है कि उसी वादे के मुताबिक, सक्सेना को महासचिव बनाया गया है।
 
गौरतलब है कि मध्यप्रदेश व्यावसायिक परीक्षा मंडल यानी व्यापमं द्वारा मेडिकल कोर्स में प्रवेश के लिए ली गई एमपीएमटी परीक्षा एवं सरकारी नौकरियों में भर्ती के लिए ली गई परीक्षाओं में भारी धांधली हुई थी। इस घोटाले की जांच विशेष कार्य बल कर चुकी है। वर्ष 2016 में सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर सीबीआई ने व्यापमं घोटाले की जांच की और मुख्यमंत्री चौहान को क्लीन चिट दी है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS