ब्रेकिंग न्यूज़
छठ व्रतियों ने डूबते हुए सूर्य को दिया अर्घ्य, घाटों पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भारी भीड़सबरीमाला केसः सभी पुनर्विचार याचिकाओं पर 22 जनवरी को ओपन कोर्ट में होगी सुनवाईछठ महापर्व के दौरान लालू-राबड़ी आवास पर पसरा सन्नाटा, नीतीश के घर दिख रही चहल-पहलनेशनल हेराल्ड: राहुल और सोनिया के खिलाफ आयकर मामले में चार दिसंबर को अंतिम दलील सुनेगा SCघोड़े पर सवार होकर घाटों का निरीक्षण करने निकले SSP मनु महाराजमुख्यमंत्री रघुवर दास ने की राज्य स्थापना दिवस की तैयारियों की समीक्षाछठ महापर्वः भगवान सूर्य को अर्घ्य देने के लिए की गई घाटों की सजावटराम मंदिर को लेकर अपनी ही सरकार को घेरेंगे विश्व हिंदू परिषद और आरएसएस
राज्य
मध्यप्रदेश: आज भारत बंद के दौरान इन जिले में दिखा व्यापक असर, प्रशासन ने किए पुख्ता इंतजाम
By Deshwani | Publish Date: 10/9/2018 4:34:28 PM
मध्यप्रदेश: आज भारत बंद के दौरान इन जिले में दिखा व्यापक असर, प्रशासन ने किए पुख्ता इंतजाम

भोपाल। कांग्रेस समेत देशभर के 21 विपक्षी दलों ने आज भारत बंद कर रखा है। मध्य प्रदेश में भी इसका असर दिखना शुरू हो गया है। राजधानी में लोगों ने बीजेपी और कांग्रेस नेताओं के चित्रों पर कालिख पोत कर विरोध जताया वहीं, उज्जैन में प्रदर्शन कारियों ने पेट्रोल पंप पर तोड़ फोड़ की। वहीं, सुरक्षा को देखते हुए पुलिस अलर्ट है। राजधानी में प्रदर्शन स्थलों से लेकर हाईवे की सुरक्षा के लिए पेट्रोलिंग बढ़ा दी गई है।

जबलपुर में भारत बंद के मद्देनजर NSUI का उग्र प्रदर्शन जारी है। यहां कार्यकर्ताओं ने पेट्रोल पंप में जमकर तोड़फोड़ की। पेट्रोल पंप मालिक भाजपा समर्थित थे। इसके बाद उन्होंने एक स्कूटी को आग के हवाले कर दिया और काशी एक्प्रेस को पुल नंबर दो पर रोका।

सागर जिला में बंद के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे करीब पचास कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। शहर बंद करने उतरे कांग्रेसियों की तीनबत्ती पर पुलिस से जोरदार झड़प हुई। शहर में लगी धारा 144 के चलते समूह के रुप में प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

राजधानी भोपाल में बंद को लेकर प्रदर्शन करते हुए एमपी नगर स्थित बोर्ड ऑफिस चौराहे पर लोगों ने बीजेपी और कांग्रेस नेताओं के चित्रों पर कालिख पोत कर विरोध जताया। वहीं, लोगों ने सब्जी के ठेले लगाकर बंद के विरोध पर गुस्से का इजहार किया है।

इंदौर में बंद को देखते हुए स्कूल-कॉलेज, बाजार, व्यापारिक प्रतिष्ठान के और पेट्रोल पंप बंद हैं। वहीं, कई चौराहों पर प्रदर्शन करते हुए कांग्रेस कार्यकर्ता काली पट्टी और काले कपड़े पहनकर पर उतरे हैं।

वहीं, ग्वालियर में बंद को देखते हुए धारा 144 लगाई गई है। यहां सुबह से ही शहर भर में कांग्रेस कार्यकर्ता हाथ जोड़कर बंद कराने की अपील करने निकल पड़े। वहीं, कांग्रेसियों ने झंडों के साथ सड़क पर उतरकर सरकार विरोधी नारे लगाए। सुरक्षा के यहां कड़े इंतजाम किए हुए हैं। शहर में करीब 1400 से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात हैं।

उज्जैन में सड़कों पर उतरे कांग्रेसियों ने प्रदर्शन करते हुए चिमनगंज मंडी के सामने पेट्रोल पंप पर की तोड़फोड़ की। उन्होंने नोजल निकाल कर फेंक दिया। मौके पर पहुंची पुलिस से कांग्रेसियों की झड़प हो गई। इस दौरान कांग्रेस का एक कार्यकर्ता घायल हो गया।

शहडोल जिला में भारत बंद का असर दिखा। यहां बंद का समर्थन में 80 प्रतिशत दुकानें बंद है। वहीं, विरोध प्रदर्शन करते हुए कांग्रेसियों ने शहडोल में धनपुरी आजाद चौक पर पुलिस की मौजूदगी में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का पुतला फुंका।

बड़वानी जिला में अभी तक बंद का मिला-जुला असर देखने को मिला। यहां काफी दुकानें खुली रहीं। सेंधवा समेत अन्य जगहों पर रोजाना की तरह बाजार खुले रहे।

मुरैना जिला फिलहाल बंद नही है क्योकि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ यहां आ रहे हैं।

गुना में पेट्रोल-डीजल की कीमतों के बढ़ते दाम को कम करवाने के लिए कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ सभी दुकानदारों के पास जाकर हाथ जोड़कर निवेदन करते हुए दुकानों को बंद करवाने के लिए निवेदन किया और कहा कि आप हमारे इस बंद को सफल बनाने में सहयोग करते हुए अपनी दुकानें बंद रखें। पुलिस बल पूरी तरह से मुस्तैद है और हर गतिविधि पर नजर रखत् हुए वीडियो रिकॉर्डिंग की जा रही है।

देवास में भी बन्द का असर दिखा। शहर के मुख्य बाजार बंद रहे। कांग्रेसियों ने बाइक रैली निकाली। इस दौरान कुछ दुकानदारों, पेट्रोल पम्प कर्मियों और कांग्रेसियो के बीच हुई बहसबाजी हुई।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS