ब्रेकिंग न्यूज़
पीडीपी से गठबंधन तोड़ने के बाद जम्मू में गरजे अमित शाह, कश्मीर को नहीं होने देंगे अलगअधूरी पड़ी योजनाओं को जल्द पूरा करने का सुशील कुमार मोदी ने दिए निर्देशसर्च अॅापरेशन में पुलिस को मिली बड़ी सफलता, लातेहार से भारी मात्रा में हथियार बरामदकबाड़ी वाले ने किया कबूल, 8500 में खरीदी थी मैट्रिक परीक्षा की गायब हुई कॉपियांसरकारी जमीन पर लालू के कन्हैया ने बनवाया मंदिर, प्रशासन ने नहीं की कोई कार्रवाईस्वतंत्र विदेश नीति के तहत भारत और चीन से करीबी संबंध बनाए रखेगा नेपालसैफुदीन सोज ने फिर दिया विवादित बयान: पटेल तो कश्मीर पाकिस्तान को देना चाहते थे पर नेहरू नहीं मानेउत्पाद विभाग की टीम ने जब्त की 201 कार्टन नेपाली शराब
राज्य
केजरीवाल की भाजपा से पुरानी दोस्ती को लेकर प्रियंका गांधी ने किया सियासी वार
By Deshwani | Publish Date: 12/6/2018 5:31:49 PM
केजरीवाल की भाजपा से पुरानी दोस्ती को लेकर प्रियंका गांधी ने किया सियासी वार

जालंधर। कांग्रेस द्वारा चाहे राष्ट्रीय स्तर पर भाजपा के विरुद्ध विपक्षी दलों को एकजुट करने के लिए अभियान चलाया गया है परन्तु कांग्रेस नेतृत्व दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार व मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को शंकाओं की दृष्टि से देख रहा है। मुख्यमंत्री केजरीवाल द्वारा दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने पर लोकसभा चुनाव में भाजपा का समर्थन करने के दिए बयान को लेकर कांग्रेस की वरिष्ठ राष्ट्रीय नेत्री व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की बहन प्रियंका गांधी ने सोशल मीडिया पर जमकर केजरीवाल के खिलाफ सियासी भड़ास निकाली है। केजरीवाल ने कहा था कि अगर भाजपा सरकार दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देती है तो वह दिल्ली में लोकसभा चुनाव में भाजपा की मदद करेंगे अन्यथा भाजपा को सत्ता से हटाने के लिए अभियान शुरू कर देंगे।

 
प्रियंका गांधी ने आज फेसबुक पर एक अंग्रेजी दैनिक की खबर का हवाला देते हुए लिखा कि दिल्ली में कांग्रेस द्वारा केजरीवाल को साइडलाइन कर दिए जाने के बाद अब केजरीवाल अपने पुराने दोस्त भाजपा के पास चले गए हैं ताकि वह भाजपा को एक बार फिर से केन्द्र में सत्ता दिलाने में अपनी भूमिका अदा कर सकें। प्रियंका गांधी ने यह भी लिखा कि केजरीवाल ने यह सिद्ध कर दिया है कि वह अपना रंग तेजी से बदलने के आदि हैं। कांग्रेस इस बात को यकीनी बनाएगी कि केजरीवाल चाहे इस बार किसी की भी रक्षा के लिए आगे आ जाएं परन्तु उनके प्रयासों को कांग्रेस सफल नहीं होने देगी।
 
इससे पहले भी प्रियंका ने केजरीवाल के खिलाफ अपनी फेसबुक पर जमकर सियासी प्रहार किए थे। प्रियंका द्वारा केजरीवाल के खिलाफ किए गए सियासी प्रहार से स्पष्ट हो गया है कि कांग्रेस केजरीवाल को शंका की दृष्टि से देख रही है। पंजाब विधानसभा चुनाव से पूर्व भी तत्कालीन पंजाब कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने आम आदमी पार्टी की शिअद-भाजपा गठबंधन के साथ अंदरूनी सांठगांठ के आरोप लगाए थे। अब प्रियंका गांधी ने राष्ट्रीय स्तर पर आम आदमी पार्टी को शंका के घेरे में ले लिया है।
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS