ब्रेकिंग न्यूज़
पुलिस मुठभेड़ में मारा गया इनामी अपराधी मुचकुंद, 50 से अधिक मामलों में थी तलाशट्रक-बाइक की भिड़ंत में तीन परीक्षार्थियों की दर्दनाक मौतसचिन पायलट बनाए गए राजस्‍थान के उप मुख्‍यमंत्री, गहलोत होंगे सीएम'सिंबा' के नए गाने 'तेरे बिन..' में नजर आया रणवीर सिंह और सारा अली खान का रोमांसअब नेपाल में हुई नोटबंदी, आज से नहीं चलेंगे 200, 500 और 2000 के 'भारतीय नोट'राफेल डील पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद लोकसभा में हंगामा, कार्यवाही 17 दिसंबर तक स्थगितबीपीएससी 64वीं संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा 16 दिसंबर को, 4.71 लाख से अधिक अभ्यार्थी होंगे शामिलपरिणय सूत्र में बंधे ओलंपियन पहलवान विनेश फोगाट और सोमबीर राठी
राज्य
केजरीवाल की भाजपा से पुरानी दोस्ती को लेकर प्रियंका गांधी ने किया सियासी वार
By Deshwani | Publish Date: 12/6/2018 5:31:49 PM
केजरीवाल की भाजपा से पुरानी दोस्ती को लेकर प्रियंका गांधी ने किया सियासी वार

जालंधर। कांग्रेस द्वारा चाहे राष्ट्रीय स्तर पर भाजपा के विरुद्ध विपक्षी दलों को एकजुट करने के लिए अभियान चलाया गया है परन्तु कांग्रेस नेतृत्व दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार व मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को शंकाओं की दृष्टि से देख रहा है। मुख्यमंत्री केजरीवाल द्वारा दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने पर लोकसभा चुनाव में भाजपा का समर्थन करने के दिए बयान को लेकर कांग्रेस की वरिष्ठ राष्ट्रीय नेत्री व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की बहन प्रियंका गांधी ने सोशल मीडिया पर जमकर केजरीवाल के खिलाफ सियासी भड़ास निकाली है। केजरीवाल ने कहा था कि अगर भाजपा सरकार दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देती है तो वह दिल्ली में लोकसभा चुनाव में भाजपा की मदद करेंगे अन्यथा भाजपा को सत्ता से हटाने के लिए अभियान शुरू कर देंगे।

 
प्रियंका गांधी ने आज फेसबुक पर एक अंग्रेजी दैनिक की खबर का हवाला देते हुए लिखा कि दिल्ली में कांग्रेस द्वारा केजरीवाल को साइडलाइन कर दिए जाने के बाद अब केजरीवाल अपने पुराने दोस्त भाजपा के पास चले गए हैं ताकि वह भाजपा को एक बार फिर से केन्द्र में सत्ता दिलाने में अपनी भूमिका अदा कर सकें। प्रियंका गांधी ने यह भी लिखा कि केजरीवाल ने यह सिद्ध कर दिया है कि वह अपना रंग तेजी से बदलने के आदि हैं। कांग्रेस इस बात को यकीनी बनाएगी कि केजरीवाल चाहे इस बार किसी की भी रक्षा के लिए आगे आ जाएं परन्तु उनके प्रयासों को कांग्रेस सफल नहीं होने देगी।
 
इससे पहले भी प्रियंका ने केजरीवाल के खिलाफ अपनी फेसबुक पर जमकर सियासी प्रहार किए थे। प्रियंका द्वारा केजरीवाल के खिलाफ किए गए सियासी प्रहार से स्पष्ट हो गया है कि कांग्रेस केजरीवाल को शंका की दृष्टि से देख रही है। पंजाब विधानसभा चुनाव से पूर्व भी तत्कालीन पंजाब कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने आम आदमी पार्टी की शिअद-भाजपा गठबंधन के साथ अंदरूनी सांठगांठ के आरोप लगाए थे। अब प्रियंका गांधी ने राष्ट्रीय स्तर पर आम आदमी पार्टी को शंका के घेरे में ले लिया है।
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS