ब्रेकिंग न्यूज़
पुलिस मुठभेड़ में मारा गया इनामी अपराधी मुचकुंद, 50 से अधिक मामलों में थी तलाशट्रक-बाइक की भिड़ंत में तीन परीक्षार्थियों की दर्दनाक मौतसचिन पायलट बनाए गए राजस्‍थान के उप मुख्‍यमंत्री, गहलोत होंगे सीएम'सिंबा' के नए गाने 'तेरे बिन..' में नजर आया रणवीर सिंह और सारा अली खान का रोमांसअब नेपाल में हुई नोटबंदी, आज से नहीं चलेंगे 200, 500 और 2000 के 'भारतीय नोट'राफेल डील पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद लोकसभा में हंगामा, कार्यवाही 17 दिसंबर तक स्थगितबीपीएससी 64वीं संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा 16 दिसंबर को, 4.71 लाख से अधिक अभ्यार्थी होंगे शामिलपरिणय सूत्र में बंधे ओलंपियन पहलवान विनेश फोगाट और सोमबीर राठी
राज्य
मनोज तिवारी बोले : लोकतंत्र का मजाक है केजरीवाल का धरना
By Deshwani | Publish Date: 12/6/2018 4:54:28 PM
मनोज तिवारी बोले : लोकतंत्र का मजाक है केजरीवाल का धरना

 नई दिल्ली। भाजपा की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने आज कहा कि उप - राज्यपाल कार्यालय में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उनके कैबिनेट सहर्किमयों का धरना ‘‘लोकतंत्र का मजाक ’’ है।  केजरीवाल और उनकी कैबिनेट के मंत्रियों ने कल उप - राज्यपाल अनिल बैजल के कार्यालय में रात बिताई। उनकी मांग है कि बैजल आईएएस अधिकारियों को अपनी ‘‘हड़ताल’’ खत्म करने के निर्देश दें और ‘‘चार महीने ’’ से उनके काम में रोड़े अटकाने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करें।  मुख्यमंत्री केजरीवाल , उप - मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया , श्रम मंत्री गोपाल राय और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कल शाम 5:30 बजे बैजल से मुलाकात की और उसके बाद से वे वहां जमे हुए हैं।  

 
तिवारी ने ट्वीट किया , ‘‘लोकतंत्र का मजाक बना रहे हैं। काम कुछ नहीं , सिर्फ ड्रामा। ’’ विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेंदर गुप्ता ने विधानसभा में कहा कि केजरीवाल का धरना ‘‘काम से बचने ’’ का तरीका है। गुप्ता ने ट्विटर पर लिखा , ‘‘एयरकंडीशन्ड धरने पर पैर फैलाकर पसरे हुए हैं दिल्ली के मालिक अरविंद केजरीवाल , मनीष सिसोदिया , सत्येंद्र जैन और गोपाल राय। स्वादिष्ट व्यंजन बाहर से परोसे जा रहे हैं और दिल्ली की जनता पानी के लिए त्राहि - त्राहि कर रही है। काम से बचने का एक नया तरीका। ’’ ‘आप ’ के कई विधायक , नेता और कार्यकर्ता भी उप - राज्यपाल दफ्तर के पास डेरा डाले हुए हैं और पुलिस ने इलाके की घेराबंदी कर दी है। उप - राज्यपाल कार्यालय ने केजरीवाल के धरने की आलोचना करते हुए कहा कि यह ‘‘बगैर किसी वजह के धरना ’’ की कड़ी में एक और प्रदर्शन है।   
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS