ब्रेकिंग न्यूज़
राज्य
भाजपा ने सपा-बसपा के तालमेल को 'स्वार्थ का गठबंधन' बताया
By Deshwani | Publish Date: 10/3/2018 5:20:26 PM
भाजपा ने सपा-बसपा के तालमेल को 'स्वार्थ का गठबंधन' बताया

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी ने सपा-बसपा के तालमेल को 'स्वार्थ का गठबंधन' करार देते हुए शनिवार को कहा कि जनता इस गठबंधन से हैरान है। भाजपा के उत्तर प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा, 'समाजवादी पार्टी ने पिछले ही विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के साथ नापाक गठबंधन किया था, पर प्रदेश की महान जनता ने इस मौकापरस्त गठबंधन की धज्जियां उड़ा दीं। अब सपा और बसपा उपचुनाव में साथ खड़े हुए हैं। जनता इस गठबंधन से हैरान है।'

 
भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि किसे याद नहीं कि पिछले पंद्रह वर्षों में इन दोनों दलों के बीच क्या क्या हुआ है? गेस्ट हाउस कांड में जहां सपा की अगुवाई में अराजकता की हदें पार करते हुए ना सिर्फ बसपा प्रमुख पर कातिलाना हमला हुआ बल्कि इस घटना के बाद सपा सरकारों में बड़े पैमाने पर बदले की भावना से दलितों पर बेइंतहा अत्याचार किए गए। त्रिपाठी ने कहा कि आज मायावती के फैसले से वे लोग हतप्रभ हैं जिनको सपा सरकारों में हर तरह के जुल्म सहने पड़े।
 
फूलपुर और गोरखपुर में 11 मार्च को होने वाले उपचुनाव में भाजपा को हराने के लिए बहुजन समाजवादी पार्टी (बसपा) ने रविवार को अपनी प्रतिद्वंद्वी समाजवादी पार्टी (सपा) के उम्मीदवारों को समर्थन देने की घोषणा की थी। इलाहाबाद में जोनल कोऑर्डिनेटर अशोक कुमार गौतम की अध्यक्षता में बसपा जिला कार्यालय में हुई बैठक के दौरान सपा प्रत्याशी नागेंद्र सिंह पटेल को समर्थन देने की बात तय की गई थी। गोरखपुर में मंगलम लॉन में आयोजित बसपा कार्यकर्ता सम्मेलन में बसपा के मुख्य जोन कोऑर्डिनेटर घनश्याम चंद्र खरवार ने समाजवादी पार्टी प्रत्याशी प्रवीण कुमार निषाद को समर्थन देने का एलान किया था।
 
इस समर्थन के पीछे वजह बताई गई थी कि भाजपा को हराने के लिए गठबंधन किया गया है। मायावती की पार्टी अखिलेश की सपा के साथ हालांकि मंच साझा नहीं करेगी।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS