ब्रेकिंग न्यूज़
बदमाशों ने रंगदारी नहीं देने पर घर में की हवाई फायरिंग, बाइक सहित चार कारतूस जब्तमोतिहारी के रघुनाथपुर पुलिस ने तीन फराय अभियुक्तों के घर पर इश्तेहार सटवायामोतिहारी में 8 संदिग्ध युवक गिरफ्तार, पुलिस ने कहा- झपटमार गिरोह के हैं सदस्यपूर्व केन्द्रीय राधा मोहन सिंह ने पृथ्वी दिवस के अवसर पर बापू पौध शाला का उद्घाटन कियासंजय दत्त को हो रही है सांस लेने में समस्या, लीलावती अस्पताल में भर्तीनेपाल: बीरगंज के नारायणी अस्पताल में हुए पिसिआर परिक्षण में 141 लोग कोरोना संक्रमित पाये गयेमुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वाल्मीकिनगर से बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का दौरा कियाडंकन अस्पताल रक्सौल में कोविड-19 का जाँच और उपचार शुरु
राज्य
आज जुम्मे की नमाज को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश के कई जिलों में इन्टरनेट सेवाएं बंद
By Deshwani | Publish Date: 27/12/2019 1:17:45 PM
आज जुम्मे की नमाज को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश के कई जिलों में इन्टरनेट सेवाएं बंद

लखनऊ उत्तर प्रदेश में आज जुमे की नमाज को ध्यान में रखते हुए पुलिस ने सुरक्षा इंतजाम कड़े किये हैं। राज्‍य पुलिस शांति और जागरूकता समितियों के माध्यम से नागरिकता संशोधन अधिनियम के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए कई बैठकें आयोजित कर रही है। प्रशासन ने ऐहतियात के तौर पर अलीगढ़, आगरा, मथुरा और बुलंदशहर सहित राज्य के कई जिलों में कल रात से इंटरनेट सेवा बंद कर दी थी।

 
हमारे संवाददाता ने बताया कि नागरिकता कानून को लेकर हुए प्रदर्शनों में अब तक 19 लोगों की मौत हो चुकी है। इस सिलसिले में दर्ज किए मामलों की जांच के लिए विशेष जांच दल बनाया गया है। दंगा भड़काने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करते हुए सरकार ने चार सौ 98 लोगों के खिलाफ संपत्ति जब्त करने के लिए नोटिस भेजा गया है। डीजीपी कार्यालय ने बताया है कि उच्चतम न्यायालय के आदेशानुसार सरकारी और निजी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों के खिलाफ नोटिस भेजा गया है। 
 
कानपुर, लखनऊ, मऊ, मुजफ्फरनगर और बुलंदशहर सहित नौ जिलों में नोटिस दिया गया है। संभल में 26 लोगों को करीब ग्यारह लाख रुपये की बरामदगी के लिए नोटिस भेजा गया है, वहीं रामपुर में 79 लोगों को नोटिस दिया गया है। 
 
 
राज्य में स्थिति सामान्य है और किसी अप्रिय घटना की अभी तक कोई जानकारी नहीं है। पुलिस ने कहा कि आज तक कोई तीन सौ 27 एफआईआर दर्ज किये गये हैं और एक हजार एक सौ 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पांच हजार पांच सौ 58 लोगों को हिरासत में लिया गया है और उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। 
 
पुलिस सोशल मीडिया पर भी नजर बनाये हुए है और आपत्तिजनक पोस्ट लिखने के लिए आज तक 93 एफआईआर दर्ज किये गये हैं तथा एक सौ 24 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने दंगाइयों की तस्वीरें जारी की हैं और आम लोगों से इनके बारे में जानकारी देने की गुजारिश की है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS