ब्रेकिंग न्यूज़
भारत सरकार की ओर से हर घर तिरंगा कार्यक्रम का आयोजनप्रधानमंत्री ने पारसी नव वर्ष पर लोगों को बधाई दीडाकघरों के माध्यम से दस दिन की अवधि में एक करोड़ से अधिक राष्ट्रीय ध्वज खरीदे गयेमोतिहारी कस्टम के दो हवलदारों को केन्द्रीय जांच ब्यूरो ने पकड़ा, 20 हजार रुपये घूस लेने का आरोपप्रधानमंत्री ने राष्ट्रमंडल खेल 2022 के भारतीय दल का अभिवादन कियाएनएमडीसी और फिक्की भारतीय खनिज एवं धातु उद्योग पर सम्मेलन का आयोजन करेंगेबिहार: आज बादल गरजने के साथ ठनका गिरने की आशंका, तीन जिलों में भारी बारिश का अलर्टमोतिहारी, हरसिद्धि के जागापाकड़ में महावीरी झंडा के दौरान आर्केस्ट्रा में फायरिंग, दो घायल, प्राथमिकी दर्ज
पटना
एसबीआई में 86 लाख रुपये का घोटाला: स्टेट बैंक का डिप्टी मैनेजर गिरफ्तार
By Deshwani | Publish Date: 29/6/2018 6:49:47 PM
एसबीआई में 86 लाख रुपये का घोटाला: स्टेट बैंक का डिप्टी मैनेजर गिरफ्तार

पटना। एसबीआई मौर्या लोक कॉम्प्लेक्स शाखा में 86 लाख रुपये घोटाले का मामला सामने आया है। रुपये घोटाले के आरोप में  कोतवाली थाने की पुलिस ने मौर्या लोक कॉम्प्लेक्स में कार्यरत एसबीआई के डिप्टी मैनेजर सुबोध कुमार सिन्हा को  गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया।
 
इसके साथ ही पुलिस ने कार्रवाई करते हुए जेल भी भेज दिया। इनके खिलाफ एसबीआई के पटना सेंट्रल क्षेत्रीय व्यवसाय कार्यालय अनुपालन व  जोखिम प्रबंधन के मुख्य प्रबंधक राजेश प्रसाद श्रीवास्तव ने कोतवाली थाने  में 27 जून को आवेदन दिया था। इसमें यह जानकारी दी गयी थी कि एसबीआई  मौर्या लोक कॉम्प्लेक्स शाखा के डिप्टी मैनेजर सुबोध कुमार सिन्हा ने गोपाल  ठाकुर (मेसर्स एसके इंटरप्राइजेज) व निर्मला कुमारी (मेसर्स एसआर  इंटरप्राइजेज) के साथ मिलीभगत कर चालू खाते से अनधिकृत रूप से 86 लाख 13  हजार 222 रुपये की निकासी कर ली है। सारे पैसे को चीनी व्यवसायी गोपाल ठाकुर व निर्मला  ठाकुर के खाते में स्थानांतरित  कर दिया गया है।  इसके बाद सुबोध के खिलाफ कोतवाली थाने में 27 जून को आईपीसी की धारा  406/409/418/419/420/120 बी के तहत केस दर्ज किया गया। सुबोध कुमार सिन्हा मूल रूप  से बिहारशरीफ के वैगना थाने के निवासी हैं, लेकिन वे पूरे परिवार के साथ  न्यू पाटलिपुत्र कॉलोनी में जेडी मिश्रा पथ रोड नंबर 2सी में रह रहे थे।

सुबोध कुमार सिन्हा के खिलाफ बुधवार को मामला दर्ज किया गया, लेकिन वे उस समय अपने कार्य को निबटा कर घर जा चुके थे। गुरुवार  को जैसे ही सुबोध कुमार सिन्हा ड्यूटी पर पहुंचे, तो उन्हें इस बात की  जानकारी मिल गयी  कि उनके खिलाफ कोतवाली थाने में प्राथमिकी दर्ज कर ली गयी  है। इसके बाद वे ऑफिस से कार से जाने लगे। लेकिन पुलिस को भी जानकारी मिल  गयी कि सुबोध कुमार सिन्हा फरार होने की फिराक में हैं। 
 
इसके बाद गाड़ी का  पीछा कर हड़ताली मोड़ पर उन्हें पकड़ा गया और गिरफ्तार कर कोतवाली थाने  लाया गया और आवश्यक प्रक्रिया करते हुए जेल भेज दिया गया।

 

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS