ब्रेकिंग न्यूज़
श्री कृष्ण महोत्सव के रंग में रंगे स्कूली बच्चे, कृष्ण और राधा बन कर पहुंचे स्कूलस्वच्छ रक्सौल संस्था के अध्यक्ष रंजीत के समर्थन में महिलाओं ने हाथों में चूड़ी लेकर किया बाजार भ्रमणपताही पुलिस ने पांच सौ बोतल लेमन फ्लेवर नेपाली कस्तूरी शराब किया बरामद, शराब माफिया फरारकिशोरावस्था में होने वाले बदलाव से जुड़ी भ्रांतियां मात्र एक क्लिक में होंगे दूर, स्वास्थ्य विभाग ने लांच किया साथिया सलाह मोबाइल एपपेरिस में 370 पर बोले प्रधानमंत्री मोदी- अब भारत में कुछ भी टेम्परेरी नहीं होगानेपाल में जन्माष्टमी की धूम, ललितपुर के कृष्ण मंदिर में उमड़ा भक्तों का सैलाबघाटी में अब तेज़ी से सामान्य होते जा रहे हैं हालात, खत्म हुआ अलगाववादियों के फतवों का खौफशार्ट सर्किट से स्कूल बस में लगी आग, लपटों के बीच बच्चों को सुरक्षित निकाला गया
नेपाल
भारत-नेपाल के बीच जल्द शुरू होगी रेल सेवा, अंतिम चरण पर कार्य
By Deshwani | Publish Date: 19/10/2018 5:21:51 PM
भारत-नेपाल के बीच जल्द शुरू होगी रेल सेवा, अंतिम चरण पर कार्य

मधुबनी। भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजना इंडो-नेपाल रेल परियोजना शीघ्र शुरू होने वाला है। हाल ही में बिहार सरकार द्वारा नेपाल की राजधानी काठमांडू तक बस सेवा की शुरूआत की गई थी। जिसके तहत बिहार राज्य पथ परिवहन निगम की बसें बोधगया से काठमांडू और पटना से जनकपुर तक के लिए चलाई गई थी।

 
केंद्र सरकार ने भारत-नेपाल को रेल सेवा से जोड़ने की तैयारी कर ली है। इसके लिए काम अंतिम चरण में चल रहा है। उम्मीद जताई जा रही है कि इसी साल के अंत तक दोनों देशों के बीच रेल परिचालन शुरू कर दी जाएगी। भारत-नेपाल के बीच जयनगर-जनकपुर-कुर्था के बीच जल्द रेल परिचालन शुरू होगा। इसके लिए निर्माण कंपनी के द्वारा परियोजना पर काफी तेजी से कार्य किया जा रहा है। इसका काम अब अंतिम चरण में है। उस साल के अंत तक सेवा शुरू होने की उम्मीद है।
 
 
परियोजना का नेपाल सरकार के यातायात मंत्री इंजीनियर रघुवीर महासेठ समेत अन्य अधिकारियों ने नेपाल के जनकपुर-जयनगर रेल खंड का निरीक्षण किया है। नेपाल यातायात मंत्री ने रेल निर्माण कार्यों में लगे जयनगर स्थित इरकॉन इंटरनेशनल कम्पनी के अधिकारियों से भी बात की है।
 
मंत्री ने कहा कि जयनगर -जनकपुर- कुर्था नेपाल रेल परिचालन से दोनों देशों के बीच वर्षो से कायम बेटी-रोटी का संबंध और मजबूत होगा। इस परियोजना से व्यापार को बढ़ावा मिलेगा और दोनों देशों को फायदा होगा।
 
वहीं, नेपाल के मंत्री ने यह भी कहा कि जिस तरह से भारत-नेपाल के बीच रेल यातायात व्यवस्था शुरू होने जा रही है। उसी तरह से नेपाल-चीन के बीच भी रेल परिचालन पर सहमति बन रही है।
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS