ब्रेकिंग न्यूज़
श्री कृष्ण महोत्सव के रंग में रंगे स्कूली बच्चे, कृष्ण और राधा बन कर पहुंचे स्कूलस्वच्छ रक्सौल संस्था के अध्यक्ष रंजीत के समर्थन में महिलाओं ने हाथों में चूड़ी लेकर किया बाजार भ्रमणपताही पुलिस ने पांच सौ बोतल लेमन फ्लेवर नेपाली कस्तूरी शराब किया बरामद, शराब माफिया फरारकिशोरावस्था में होने वाले बदलाव से जुड़ी भ्रांतियां मात्र एक क्लिक में होंगे दूर, स्वास्थ्य विभाग ने लांच किया साथिया सलाह मोबाइल एपपेरिस में 370 पर बोले प्रधानमंत्री मोदी- अब भारत में कुछ भी टेम्परेरी नहीं होगानेपाल में जन्माष्टमी की धूम, ललितपुर के कृष्ण मंदिर में उमड़ा भक्तों का सैलाबघाटी में अब तेज़ी से सामान्य होते जा रहे हैं हालात, खत्म हुआ अलगाववादियों के फतवों का खौफशार्ट सर्किट से स्कूल बस में लगी आग, लपटों के बीच बच्चों को सुरक्षित निकाला गया
नेपाल
नेपाल : तूफान में फंसने के कारण कम से कम 8 पर्वतारोहियों की मौत
By Deshwani | Publish Date: 13/10/2018 1:06:34 PM
नेपाल : तूफान में फंसने के कारण कम से कम 8 पर्वतारोहियों की मौत

काठमांडू। नेपाल के गुरजा माउंटेन पर पर्वतारोहण करने गए कम से कम 8 पर्वतारोहियों की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि शु्क्रवार को 5 दक्षिण कोरियाई पर्वतारोहियों और 4 नेपाली गाइड के यहां लापता होने की खबरें आई थीं। ये सभी इस पर्वत पर चढ़ाई करते समय बेस कैंप में भीषण तूफान में फंस गए थे। गुरजा माउंटेन करीब 7,193 मीटर ऊंचा है। यह पश्चिम नेपाल के म्‍यागडी जिले की धौलागिरी रूरल म्‍युनिसिपैलिटी-1 के अंतर्गत आता है।

 
 
मामले की जांच कर रहे नेपाल पुलिस के अधिकारी बीर बहादुर ने इस पर बताया कि दक्षिण कोरिया के 5 पर्वतारोही और 4 नेपाली गाइड माउंट गुरजा पर चढ़ाई करने गए थे। लेकिन शुक्रवार रात को वहां आए एक भीषण तूफान ने उनके बेस कैंप को उखाड़ दिया। उन्‍होंने बताया कि इसके बाद आज सुबह इन लोगों के लिए बचाव अभियान शुरू किया गया।
 
 
आज सुबह बचाव अभियान के तहत कुछ हेलीकॉप्‍टर भी माउंट गुरजा भेजे गए। लेकिन ये हेलीकॉप्‍टर वहां खराब मौसम के कारण लैंड नहीं कर पाए। वहां का मौसम लगातार खराब बना हुआ है। उनका कहना है कि ऐसा माना जा रहा है कि माउंट गुरजा मौसम साफ होने के बाद ही बेस कैंप तक पहुंच पाना मुमकिन हो पाएगा। यह बेस कैंप पास के गांव से करीब एक दिन की यात्रा पर स्थित है। उनका कहना है कि एक पुलिस दल भी उन लोगों की मदद के लिए पैदल ही रवाना हो चुका है। लेकिन उनके रविवार तक वहां पहुंचने की संभावना है।
 
 
 
 
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS