ब्रेकिंग न्यूज़
प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी में देश के दूसरे सबसे बड़े कैंसर हॉस्पिटल का किया लोकार्पणलालू प्रसाद से मिले बेटी हेमा और दामाद, विशेष अनुमति पर हुई मुलाकातजातिवादी और सांप्रदायिक सोच की वजह से देश में बढ़ रही विकृतियां: मायावतीनम आंखों से हजारों लोगों ने शहीद मेजर ढौंडियाल को दी विदाई, गंगा तट पर हुआ अंतिम संस्कारकरिश्मा कपूर शुरू करेंगी अपनी नई पारी, ऐसा होगा उनका रोल20 सितंबर को 'झुंड' में नजर आएंगे अमिताभ, टक्कर लेने को तैयार नहीं कोईआईपीएल-2019 के 12वें एडिशन के शुरुआती 2 सप्ताह का शेड्यूल जारी, चेन्नै और आरसीबी में होगा पहला मैचपटना हाई कोर्ट का बड़ा फैसला, पूर्व मुख्यमंत्रियों को अब नहीं मिलेगा सरकारी आवास
नेपाल
नेपाल में प्रधानमंत्री मोदी का 'जय सियाराम', जनकपुर-अयोध्या बस सर्विस को दिखाई हरी झंडी
By Deshwani | Publish Date: 11/5/2018 3:30:34 PM
नेपाल में प्रधानमंत्री मोदी का 'जय सियाराम', जनकपुर-अयोध्या बस सर्विस को दिखाई हरी झंडी

 काठमांडू। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दो दिवसीय नेपाल दौरे के पहले दिन आज जनकपुर में 20वीं सदी में बने जानकी धाम मंदिर में पूजा-अर्चना की। इस दौरान वहां मौजूद पुरोहितों ने मोदी को मंदिर परिसर और वहां की संस्कृति के बारे में पूरी जानकारी दी। पूजा-अर्चना के बाद मोदी ने नेपाल प्रधानमंत्री के.पी. शर्मा ओली के साथ मिलकर जनकपुर-अयोध्या बस सर्विस को हरी झंडी दिखाई। प्रधानमंत्री मोदी का जनकपुर सब-मेट्रोपॉलिटन सिटी के बरबीघा मैदान में स्वागत किया जाएगा। पीएम के जनकपुर पहुंचते ही मोदी-मोदी के नारे लगने शुरू हो गए।

 
मोदी के संबोधन के प्रमुख अंश
 
रामायण सर्किट भारत-नेपाल के लिए अहम, इससे पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।
मुझे गर्व है कि यहां आकर माता सीता की पूजा करने का सौभाग्य मिला।
मैं भारत का पहला प्रधानमंत्री हूं जिसने जनकपुर में आकर पूजा की, मैं नेपाल के प्रधानमंत्री का शुक्रिया करना चाहता हूं।
आज एकादशी भी है और इस दिन देवी सीता का पूजन करना मेरे लिए बहुत बड़ी बात है।
 
मोदी काठमांडू भी जाएंगे जहां उनकी पूर्ण राजकीय सम्मान के साथ अगवानी की जाएगी। काठमांडू में मोदी राष्ट्रपति बिद्यादेवी भंडारी और उपराष्ट्रपति नंद किशोर पुन से मुलाकात के बाद प्रधानमंत्री ओली के साथ द्विपक्षीय बैठक में भाग लेंगे और रिमोट वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से नेपाल में बनने वाली सबसे बड़ी जलविद्युत परियोजना अरुण-3 की आधारशिला रखेंगे। मोदी पूर्व प्रधानमंत्रियों -सर्वश्री शेरबहादुर देउबा और पुष्पकमल दहल प्रचंड से मिलेंगे।
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS