ब्रेकिंग न्यूज़
रक्सौल के मुकेश कुमार को मिला ग्लोबल पीस अवार्डडीएफओ प्रभाकर झा ने भारत- नेपाल सीमा पर बने जांच चौकी का किया निरीक्षण, पेड़ों को लेकर दिए निर्देशहिन्दू जागरण मंच बेतिया ने वीर गौरव बब्लू बारी को दी श्रद्धाजंलि, उनके विस्मरणीय योगदानों को किया यादट्रैक्टर में बैठकर नगर विकास मंत्री के घर कूड़ा फेंकने जा रहे थे पप्पू यादव, पुलिस ने काटा चालानभारत-बांग्लादेश मैच में शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री मोदी और हसीना को दिया गया न्योताकश्मीर देश का आंतरिक मुद्दा, इसे अंतरराष्ट्रीय क्यों बना रही है कांग्रेस: राजनाथ सिंहनिवेश के लिए भारत से अच्छी कोई जगह नहीं, सरकार सुधार लाने के लिए उठा रही कदम: वित्‍त मंत्री सीतारमणजन्मदिन: बेमिसाल अदाकारा और बहुमुखी प्रतिभा की धनी थी स्मिता पाटिल
नेपाल
नेपाल में भारतीय दूतावास ऑफिस के बाहर धमाका, कोई हताहत नहीं
By Deshwani | Publish Date: 17/4/2018 12:36:04 PM
नेपाल में भारतीय दूतावास ऑफिस के बाहर धमाका, कोई हताहत नहीं

काठमांडो। नेपाल में स्थित भारतीय दूतावास के सामने कल रात बम धमाका हुआ। धमाके से किसी की जान तो नहीं गई लेकिन दूतावास की दीवार को नुकसान पहुंचा है। नेपाल पुलिस ने कहा कि अभी तक इस हमले की किसी ने जिम्मेदारी नहीं ली है। काठमांडू स्थित भारतीय दूतावास ने अभी तक इस विस्फोट पर कोई टिप्पणी नहीं की है। संदेह है कि नेत्रा विक्रम चंद की अगुवाई वाला नक्सलियों का एक छोटा समूह इस विस्फोट के लिए जिम्मेदार हो सकता है क्योंकि वह पहले कई बार भारत-विरोधी टिप्पणियां कर चुका है। मोरांग के पुलिस अधीक्षक अरुण कुमार बीसी ने कहा कि विस्फोट जिस भारतीय कार्यालय के पास हुआ है, उसे नेपाल सरकार की अनुमति के बिना संचालित किया जा रहा है।

 

कुमार ने कहा कि पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। हालांकि नेपाल इस कार्यालय को खाली कराने के लिए कई बार कह चुका है। वर्ष 2008 में कोसी नदी में आई बाढ़ के दौरान नेपाल सरकार ने भारत से आग्रह किया था कि जब तक उसके राजमार्गों की मरम्मत नहीं हो जाती तब तक भारत परिवहन के लिए अपनी जमीन उपलब्ध कराए।

 

अब दूतावास के हुए धमाके के बाद सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है और आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई है। बताया जा रहा है कि यह एक अस्थाई कार्यालय है जिसे नेपाल और उत्तरी बिहार में बाढ़ के दौरान स्थापित किया गया था और तभी से वहां काम जारी है। धमाके के समय कार्यालय में किसी के नहीं होने की वजह से कोई नुकसान नहीं हुआ।

 

 

 

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS