ब्रेकिंग न्यूज़
शेयर बाजार: बैंक, आईटी कंपनियों के बल पर सेंसेक्स में 490 अंक का उछालउत्तर कोरियाई शासक किम व्लदिमीर पुतिन का समर्थन हासिल करने के लिए पहुंचे रूसकांग्रेस ने बिहार के लिए 55 साल के राज में क्या किया: अमित शाहसीजेआई पर आरोप लगाने वाली महिला की धोखाधड़ी मामले में जमानत रद्द करने पर 23 मई को सुनवाई‘दीदी’ सिलवाती हैं कुर्ते, शेख हसीना भेजती हैं मिठाइयां: प्रधानमंत्री मोदीकेजरीवाल, सिसोदिया और योगेंद्र के खिलाफ जारी गैर जमानती वारंट पर लगी रोकरोड शो से गदगद हुए प्रधानमंत्री मोदी, लोहरदगा की रैली में बोले- ये लहर नहीं ललकार हैरोहित शेखर की हत्या के आरोप में पत्नी अपूर्वा गिरफ्तार, गुनाह कबूला
नेपाल
नेपाल में प्रचंड और ओली बारी-बारी से बन सकते हैं प्रधानमंत्री
By Deshwani | Publish Date: 19/12/2017 9:14:37 PM
नेपाल में प्रचंड और ओली बारी-बारी से बन सकते हैं प्रधानमंत्री

काठमांडू,  (हि.स.)। नेपाल में संघीय सरकार बनाने की प्रक्रिया के तहत वामपंथी गठबंधन ने एक प्रस्ताव रखा है जिसके तहत केपी शर्मा ओली और पुष्प कमल दमल दहल प्रचंड बारी-बारी से से देश के प्रधानमंत्री बनेंगे। यह जानकारी मंगलवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली।

विदित हो कि संसदीय चुनाव में वामपंथी गठबंधन को स्पष्ट बहुमत मिला है। सीपीएन-यूएमएल को 120 सीटें और सीपीएन - माओवादी सेंटर को 53 सीटें मिली हैं। नेपाल में सरकार बनाने के लिए 275 सदस्यीय प्रतिनिधिसभा किसी भी दल या गठबंधन को 138 सदस्यों की जरूरत है, जबकि इस गठबंधन के खाते में 173 सीटें हैं।

प्रस्ताव के अनुसार, सरकार के पांच साल के कार्यकाल में ओली पहले चरण में प्रधानमंत्री बनेंगे, जबकि प्रचंड दूसरे चरण में सत्तासीन होंगे। ओली झापा संसदीय सीट से विजयी हुए हैं। वहीं, प्रचंड चितवन से निर्वाचित हुए हैं।

सीपीएन-यूएमएल के उपमहासचिव घनश्याम भूसाल ने कहा कि प्रचंड पार्टी एकीकरण समन्वय समिति के प्रमुख बनाए जा सकते हैं, जबकि ओली सरकार का नेतृत्व करेंगे। सरकार के कार्यकाल के दूसरे चरण में प्रचंड सरकार का नेतृत्व करेंगे। उन्होंने समाचार पत्र हिमालयन टाइम्स से कहा, “ पार्टी के एकीकरण के अलावा और कोई विकल्प नहीं है। ” एकीकरण से जुड़े एक सवाल पर उन्होंने कहा कि वामपंथी गठबंधन पार्टियों के एकीकरण के लिए अगले साल मार्च तक एक ठोस रोड मैप और प्रक्रिया लेकर आएगा।
 

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS