ब्रेकिंग न्यूज़
शेयर बाजार: बैंक, आईटी कंपनियों के बल पर सेंसेक्स में 490 अंक का उछालउत्तर कोरियाई शासक किम व्लदिमीर पुतिन का समर्थन हासिल करने के लिए पहुंचे रूसकांग्रेस ने बिहार के लिए 55 साल के राज में क्या किया: अमित शाहसीजेआई पर आरोप लगाने वाली महिला की धोखाधड़ी मामले में जमानत रद्द करने पर 23 मई को सुनवाई‘दीदी’ सिलवाती हैं कुर्ते, शेख हसीना भेजती हैं मिठाइयां: प्रधानमंत्री मोदीकेजरीवाल, सिसोदिया और योगेंद्र के खिलाफ जारी गैर जमानती वारंट पर लगी रोकरोड शो से गदगद हुए प्रधानमंत्री मोदी, लोहरदगा की रैली में बोले- ये लहर नहीं ललकार हैरोहित शेखर की हत्या के आरोप में पत्नी अपूर्वा गिरफ्तार, गुनाह कबूला
नेपाल
वीरगंज- काठमांडू के बीच शुरू होगी इलेक्ट्रिक रेल सेवा
By Deshwani | Publish Date: 10/1/2017 8:06:30 PM

विजय कुशवाहा

Nepal
वीरगंज- काठमांडू के बीच शुरू होगी इलेक्ट्रिक रेल सेवा

 वीरगंज (नेपाल) । विजय कुशवाहा

उत्तर बिहार की सीमा से सटे नेपाल के वीरगंज और काठमांडू के बीच रेल सेवा शुरू की जाएगी। इस महत्वाकांक्षी परियोजना पर काम शुरू हो गया है। सोमवार को इसके लिए 19 कंपनियों ने अपना प्रस्ताव सरकार को सौंपा। इनमें भारत, चीन और दक्षिण कोरिया की निर्माण एजेंसियां शामिल हैं। चयनित कंपनियों को छह माह के भीतर अपनी रिपोर्ट सौंपनी होगी। नवम्बर महीने में इसके लिए ग्लोबर टेंडर आमंत्रित किया गया था। इस रेल मार्ग के शुरू होने से बिहार के लोगों को भी नेपाल आने-जाने में काफी सहुलियत होगी। दोनों देशों के बीच इलेक्ट्रिक रेल सेवा शुरू होगी।

नेपाल रेलवे के सीनियर डिविजनल अभियंता प्रकाश उपाघ्याय के अनुसार, पहले चरण के हुए इस टेंडर में शामिल कंपनियों के प्रस्तावों का अध्ययन करने के बाद इनमें से छह कंपनियों को चुना जाएगा। इसके बाद एक कंपनी को काम का जिम्मा सौंपा जाएगा। चयनित कंपनी को परियोजना के लिए तीन वैसे बेहतर मार्गों का चयन करना है, जो सबसे सस्ता और उपयोगी हो।  

उन्होंने बताया कि वीरगंज नेपाल का प्रमुख औद्योगिक शहर है। इस मार्ग से ही भारत-नेपाल के बीच 70 प्रतिशत व्यापार होता है। इस परियोजना के शुरू होने के बाद दोनों देशों के बीच कम खर्च पर व्यापार बढ़ेगा। इसके अलावा पर्यटकों की संख्या में भी इजाफा होगा। 

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS