ब्रेकिंग न्यूज़
बिहार में सोमवार से लॉकडाउन का पांचवा चरण शुरू, निजी वाहन को पास की जरूरत नहीं, बसों व अन्य वाहनों का किराया नहीं बढ़ाने का निर्देशपाकिस्तानी उच्चायोग के दो ऑफिसर कर रहे थे जासूसी, भारत ने 24 घंटे के भीतर दोनों को देश छोड़ने को कहाप्रवासियों कामगारों से भरी बस मोतिहारी के चकिया में ट्रेक्टर से टकराई, ट्रेक्टर चालक घायल, कई मजदूर चोटिल, जा रही थी सहरसासाजिद-वाजिद जोड़ी के वाजिद खान अब नहीं रहे, कोरोना की वजह से गई जानबिहार में लॉकडाउन के पांचवें चरण की हुई घोषणा, 30 जून तक बढ़ा, कोरोना संक्रमण की संख्या 6,692 हुईजमात उल मुजाहिद्दीन का आतंकी अब्दुल करीम को कोलकता एसटीएफ ने पकड़ा, गया ब्लास्ट मामले में हो रही थी खोजमोतिहारी के झखिया में पुलिस ने घेराबंदी कर की कार्रवाई, शशि सहनी गिरफ्तार, 125 कार्टन अंग्रेजी शराब जब्तभोजपुरी सेंशेसन अक्षरा सिंह का नया गाना ‘कोरा में आजा छोरा’ रिलीज के साथ हुआ वायरल
नेपाल
नेपाल में नई शराब नीति लागू, बेचने व परोसने के नियमों में बदलाव
By Deshwani | Publish Date: 22/2/2017 8:34:27 PM
नेपाल में नई शराब नीति लागू, बेचने व परोसने के नियमों में बदलाव

 काठमांडू। विनय सिंह

प्रचंड सरकार की मुहर के बाद नेपाल में नई शराब नीति लागू हो गई है। इसे कानूनी मान्यता देने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है। नई नीति के अनुसार नेपाल में शराब बेचने व पीने के नियम कड़े कर दिए गए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने देश में शराब की बिक्री व इसे पीने के नियमों में बदलाव का प्रस्ताव सरकार के पास भेजा था। इसके बाद सोमवार रात प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहाल ऊर्फ प्रचंड की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में इसे पास कर दिया गया। स्वास्थ्य मंत्री गगन थापा के कानूनी सलाहकार राजू कटुवाल ने बताया कि सरकार का मानना है कि नेपाल में शराब की खुलेआम बिक्री व ज्यादा सेवन से घरेलु हिंसा, सड़क दुर्घटना व आत्महत्या के मामले बढ़ रहे हैं।
 
उन्होंने बताया कि अब शादियां, सरकारी व निजी किसी भी तरह के आयोजनों में शराब पर प्रतिबंध होगा। सुबह पांच से रात सात बजे तक शराब की बिक्री नहीं होगी। एक दिन में एक व्यक्ति को एक लीटर से अधिक शराब नहीं मिलेगी। इसके अलावा 21 साल से कम उम्र के युवक व गर्भवती महिलाएं खरीदारी नहीं कर सकेंगे। 
उन्होंने बताया कि शराब की कंपनियों के प्रचार पर भी रोक लगायी गई है। ये कंपनियां अपने उत्पाद का प्रिंट व डिजिटल मीडिया में प्रचार नहीं कर सकती। बोतलों पर ‘शराब पीना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है’ लिखना जरूर्री होगा। 
नए नियम के मुताबिक, सार्वजनिक जगह, स्कूल, कॉलेज, धार्मिक व ऐतिहासिक जगहों के आसपास शराब की बिक्री नहीं होगी।  
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS