ब्रेकिंग न्यूज़
बिहार में सोमवार से लॉकडाउन का पांचवा चरण शुरू, निजी वाहन को पास की जरूरत नहीं, बसों व अन्य वाहनों का किराया नहीं बढ़ाने का निर्देशपाकिस्तानी उच्चायोग के दो ऑफिसर कर रहे थे जासूसी, भारत ने 24 घंटे के भीतर दोनों को देश छोड़ने को कहाप्रवासियों कामगारों से भरी बस मोतिहारी के चकिया में ट्रेक्टर से टकराई, ट्रेक्टर चालक घायल, कई मजदूर चोटिल, जा रही थी सहरसासाजिद-वाजिद जोड़ी के वाजिद खान अब नहीं रहे, कोरोना की वजह से गई जानबिहार में लॉकडाउन के पांचवें चरण की हुई घोषणा, 30 जून तक बढ़ा, कोरोना संक्रमण की संख्या 6,692 हुईजमात उल मुजाहिद्दीन का आतंकी अब्दुल करीम को कोलकता एसटीएफ ने पकड़ा, गया ब्लास्ट मामले में हो रही थी खोजमोतिहारी के झखिया में पुलिस ने घेराबंदी कर की कार्रवाई, शशि सहनी गिरफ्तार, 125 कार्टन अंग्रेजी शराब जब्तभोजपुरी सेंशेसन अक्षरा सिंह का नया गाना ‘कोरा में आजा छोरा’ रिलीज के साथ हुआ वायरल
नेपाल
काठमांडू से कोलकाता और दिल्ली के बीच शुरू होगी रेल सेवा
By Deshwani | Publish Date: 21/2/2017 6:31:34 PM
काठमांडू से कोलकाता और दिल्ली के बीच शुरू होगी रेल सेवा

काठमांडू (नेपाल)। विनय सिंह

भारत सरकार  नेपाल में रेल सेवा के विस्तार को और मजबूत करना चाहती है। सरकार ने नई दिल्ली और कोलकाता से नेपाल की राजधानी काठमांडू तक सीधी रेल सेवा शुरू करने में दिलचस्पी दिखायी है। सरकार का मानना है कि इस महत्वकांक्षी परियोजना के पूरा होने से दोनों देशों के बीच राजनीतिक, सामाजिक व व्यापारिक रिश्ते और मजबूत होंगे। भारतीय रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभु ने काठमांडू में कॉनफेडरेशन ऑफ नेपाली इंडस्ट्रीज व नेपाल सरकार के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित दो दिवसीय समिट को संबोधित करते हुए यह संकेत दिए। यह समिट 19 और 20 फरवरी को सॉल्टी प्लाजा होटल में हुआ। 

उन्होंने कहा कि नेपाल के साथ भारत के गहरे रिश्ते हैं। ऐसे में दोनों देशों के बीच रेल यातायात को और विस्तार देना जरूरी है।  रेल मंत्री ने कहा कि भारत का नेपाल में रेल लाइनों के विस्तार का मकसद दोनों देशों के बीच यातायात व्यवस्था को सुगम बनाना है। इससे पर्यटकों और कारोबारियों को भी फायदा होगा। नेपाल के आर्थिक विकास में तेजी आएगी। इस परियोजना पर बहुत जल्द काम शुरू हो जाएगा। इस काम को प्राथमिकता के साथ की जाएगी। रेल मंत्री ने इस परियोजना के लिए नेपाल सरकार के अलावा देशी-विदेशी निजी निवेशकों से भी आगे आने का आग्रह किया। समिट में नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहाल ऊर्फ प्रचंड के अलावा कई देशों के डेलीगेट्स मौजूद थे। 

 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS