ब्रेकिंग न्यूज़
प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी में देश के दूसरे सबसे बड़े कैंसर हॉस्पिटल का किया लोकार्पणलालू प्रसाद से मिले बेटी हेमा और दामाद, विशेष अनुमति पर हुई मुलाकातजातिवादी और सांप्रदायिक सोच की वजह से देश में बढ़ रही विकृतियां: मायावतीनम आंखों से हजारों लोगों ने शहीद मेजर ढौंडियाल को दी विदाई, गंगा तट पर हुआ अंतिम संस्कारकरिश्मा कपूर शुरू करेंगी अपनी नई पारी, ऐसा होगा उनका रोल20 सितंबर को 'झुंड' में नजर आएंगे अमिताभ, टक्कर लेने को तैयार नहीं कोईआईपीएल-2019 के 12वें एडिशन के शुरुआती 2 सप्ताह का शेड्यूल जारी, चेन्नै और आरसीबी में होगा पहला मैचपटना हाई कोर्ट का बड़ा फैसला, पूर्व मुख्यमंत्रियों को अब नहीं मिलेगा सरकारी आवास
नेपाल
देउबा ने दिया संविधान संशोधन पर जोर
By Deshwani | Publish Date: 9/6/2017 6:15:35 PM
देउबा ने दिया संविधान संशोधन पर जोर

 काठमांडू, (हि.स.)। मधेशी पार्टियों की मांगों को रेखांकित करते हुए प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा ने संविधान में संशोधन की आवश्यकता पर जोर दिया। यह जानकारी शुक्रवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली।

समाचार पत्र हिमालयन टाइम्स के अनुसार, देउबा ने दूसरे चरण के निकाय चुनावों के बाद संविधान संशोधन करने की अपनी प्रतिबद्धता भी दोहराई।

संसद की कार्यवाही के दौरान विशेष लेकर प्रधानमंत्री ने शुक्रवार को कहा कि वह दूसेरे चरण के निकाय चुनावों के बाद संविधान संशोधन की प्रक्रिया शुरू करने के लिए संकल्पित हैं। उन्होंने मधेशी पार्टियों से कहा कि वे आगामी 28 जून को होने वाले निकाय चुनावों में शामिल हों।

देउबा ने कहा, “ अतीत में संविधान संशोधन प्रस्ताव पारित करने की स्थिति नहीं थी। इस मसले पर हम निरंतर प्रयास कर रहे हैं। मधेशी पार्टियों को दूसरे चरण के निकाय चुनावों में भाग लेना चाहिए और मैं आश्वस्त हूं कि वे भाग लेंगे। ”

उन्होंने कहा कि नेपाल ने समावेशी आनुपातिक प्रतिनिधित्व प्रणाली का अनुसरण किया है जो दुनिया में कहीं नहीं है। प्रधानमंत्री ने अधिकाधिक अधिकार हासिल करने के लिए आगे बढ़ने पर भी जोर दिया और साथ ही जो अधिकार पहले से मिले हुए हैं उसे संस्थागत बनाने को भी कहा।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS