ब्रेकिंग न्यूज़
शीला दीक्षित के निधन पर राष्ट्रपति, उप राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री सहित अन्य नेताओं ने जताया शोकदिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित का निधन, कई दिनों से थीं बीमारराष्ट्रपति ने उत्तर प्रदेश-बिहार सहित छह राज्यों के राज्यपाल किए नियुक्त, बिहार के राज्यपाल बने फागु चौहानचोटिल मुर्तजा श्रीलंका के खिलाफ एकदिनी श्रृंखला से बाहर, तमीम इकबाल टीम का संभालेंगे कमानअल्जीरिया ने जीता अफ्रीका कप ऑफ नेशंस का खिताब, फाइनल में सेनेगल को दी मातब्रिटिश ऑयल टैंकर पर ईरान ने किया कब्जा, 23 क्रू मेंबर में 18 भारतीय भी शामिलरक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पहुंचे द्रास, करगिल युद्ध स्मारक में शहीद जवानों को दी श्रद्धाजंलिसोनभद्र हत्याकांड: पीड़ितों से मिलीं प्रियंका गांधी, गले लगकर रो पड़ीं महिलाएं
बिहार
नवादा पुलिस को मिली बड़ी सफलता, कुख्यात अपराधी गिरफ्तार
By Deshwani | Publish Date: 15/3/2019 10:52:58 AM
नवादा पुलिस को मिली बड़ी सफलता, कुख्यात अपराधी गिरफ्तार

नवादा जिले के गोविंदपुर थाना क्षेत्र के कृष्णा नगर अमझार पहाड़ी पर पुलिस ने छापेमारी कर पुलिस अभिरक्षा से फरार हुए कैदी रईश राजवंशी को गिरफ्तार कर लिया। वह नवादा नगर थाना क्षेत्र के अषाढ़ी गांव का रहने वाला है। गोविदपुर थाने की पुलिस और एसएसबी जवानों ने संयुक्त छापेमारी कर उसे धर दबोचा। 



बता दें कि पैरोल पर पुलिस अभिरक्षा में बाहर निकला रईश 10 मार्च को शौच जाने के नामपर चकमा देकर भागने में सफल हो गया था। वह प्रशासन को गुमराह कर शादी समारोह में सम्मिलित होने के लिए बाहर निकला था। 9 मार्च को उसकी भतीजी की शादी थी। लेकिन उसने अपनी बेटी की शादी का कार्ड देकर प्रशासन को गुमराह करते हुए समारोह में सम्मिलित होने की अनुमति ली थी। 

जिले के सीतामढ़ी सहायक थाना क्षेत्र के सीतामढ़ी स्थित रजवार समाज के मंदिर में भतीजी की शादी में भाग लेने के बाद वापस गांव लौटा था। 10 मार्च की अहले शौच जाने के नाम पर उसने पुलिस को चकमा दिया और फरार हो गया। वह एक युवक के अपहरण कर हत्या मामले में उम्र कैद की सजा काट रहा था। उसके भागने के बाद पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी। 

इस पूरे प्रकरण में पुलिस प्रशासन की जमकर किरकिरी भी हुई थी। अभिरक्षा में रहे एसआइ सुलेमान हेंब्रम समेत पांच पुलिस कर्मियों को निलंबित किया गया था। पांचवें दिन उसे गिरफ्तार करने में पुलिस को सफलता हाथ लगी है। शराब धंधेबाजों के पास ले रखी थी शरण।
        
मिली जानकारी के अनुसार, एएसपी अभियान कुमार आलोक के नेतृत्व में एसएससबी जवान और गोविदपुर थाने की पुलिस शराब कारोबार के खिलाफ छापेमारी अभियान चलाया जा रहा था। जिसमें शराब की चार भट्ठियों को ध्वस्त किया गया था। इस दौरान दो महिला समेत पांच धंधेबाजों को गिरफ्तार किया गया था। वहीं पर ही फरार सजायाफ्ता रईश राजवंशी भी गिरफ्तार किया गया। यानि कि उसने भागने के बाद शराब धंधेबाजों के पास शरण ले रखी थी और शराब कारोबार में जुट गया था। ऐसे में माना जा रहा है कि उत्पाद अधिनियम के तहत एक और प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। इसके पहले नगर थाना में उसके फरार होने की प्राथमिकी दर्ज हुई थी।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS