ब्रेकिंग न्यूज़
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद डॉ. जायसवाल ने रक्सौल में एसआरपी मेमोरियल हॉस्पिटल का किया उदघाट्नराफेल पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर अमित शाह ने कहा- राष्ट्र से माफी मांगें कांग्रेस नेताINDvsBAN: पहले दिन का खेल समाप्‍त, भारत का स्‍कोर 1 विकेट पर 86 रनशादी की पहली सालगिरह पर त‍िरुपति पहुंचे रणवीर-दीपिका, देखें PHOTOबाल दिवस पर चाचा नेहरू को किया याद, बच्चों के बीच बांटी गई पठन-पाठन की सामग्रीविश्व मधुमेह दिवस पर सभी सरकारी अस्पतालों लगा जांच शिविर, स्वास्थ्यकर्मियों ने निकाली जागरूकता रैलीबेतिया के गन्ना किसानों के 150599.37 लाख रूपये का भुगतान हुआ: डॉ देवरेचम्पारण प्रक्षेत्र के डीआईजी व बेतिया एसपी ने शिकारपुर थाना का किया निरीक्षण
राष्ट्रीय
अयोध्या मामले पर फैसले से पहले प्रशासन सतर्क, कॉलेजों में बनाईं 8 अस्थाई जेल
By Deshwani | Publish Date: 7/11/2019 1:43:54 PM
अयोध्या मामले पर फैसले से पहले प्रशासन सतर्क, कॉलेजों में बनाईं 8 अस्थाई जेल

अंबेडकरनगर। अयोध्या भूमि विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के आने वाले फैसले को लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है। फैसला कभी भी आ सकता है। ऐसे में अयोध्या और आस-पास के जिलों में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। इसके मद्देनजर अयोध्या के पड़ोसी जिला अंबेडकरनगर के विभिन्न कॉलेजों में आठ अस्थाई जेल बनाई गई है।

अकबरपुर थाना क्षेत्र में 3, टांडा, जलालपुर, जैतपुर, भीटी और आलापुर थानाक्षेत्र में एक-एक जेल बनाई गई है। बता दें कि पुलिस और प्रशासन के अधिकारी फैसला वाले दिन इंटरनेट सुविधा बंद करवाने पर भी विचार कर रहे हैँ ताकि लोग कोई भड़काऊ मैसेज वायरल न कर सकें। एसएसपी ने बताया कि 10 हजार से ज्यादा व्हाट्सएप ग्रुपों पर नजर रखी जा रही है। इसमें जो लोग शामिल हैं उनमें से कुछ के नंबर सर्विलांस पर लिए गए हैँ।

बता दें कि पुलिस मुख्यालय ने सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील 34 जिलों के पुलिस प्रमुखों को भी निर्देश जारी कर दिए हैं। इन जिलों में मेरठ, आगरा, अलीगढ़, रामपुर, बरेली, फिरोजाबाद, कानपुर, लखनऊ, शाहजहांपुर, शामली, मुजफ्फरनगर, बुलंदशहर और आजमगढ़ आदि हैं।

अयोध्या में पहले से ही धारा-144 लागू है। अयोध्या आने वाले सभी रास्तों पर पुलिस की तलाशी अभियान चला रही है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने यूपी में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अर्धसैनिक बलों की 15 कंपनियों को भेजने की मंजूरी दी है। केंद्रीय बल के करीब 4000 जवान 18 नवंबर तक यहां तैनात रहेंगे।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS