ब्रेकिंग न्यूज़
दिग्‍व‍िजय भोपाल से लड़ेंगे लोकसभा चुनाव, 30 साल से यहां जीत नहीं पाई है कांग्रेसराम मनोहर लोहिया का जिक्र कर प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर साधा निशानासुरक्षाबलों को सर्च अभियान के दौरान मिली सफलता, भारी मात्रा में विस्फोटक और हथियार बरामदहाइवा की चपेट में आने से युवक की मौत, विरोध में लोगों ने किया सड़क जामकांग्रेस की सरकार आई तो दस दिन में किसान का कर्जा होगा माफ: राहुल गांधीआईपीएल 2019: आईपीएल के शुरुआती 6 मैचों में नहीं खेलेंगे लसिथ मलिंगा, सामने आई ये वजहमणिकर्णिका' के बाद कंगना का बड़ा धमाका, जयललिता की बायोपिक से जुड़ा नामकरमबीर सिंह होंगे अगले नौसेना प्रमुख, सुनील लांबा 31 मई को हो रहे हैं रिटायर
राष्ट्रीय
कर्नाटक उपचुनाव: भाजपा को बड़ा झटका, 5 में से 4 सीटों पर गठबंधन का कब्जा
By Deshwani | Publish Date: 6/11/2018 2:52:45 PM
कर्नाटक उपचुनाव: भाजपा को बड़ा झटका, 5 में से 4 सीटों पर गठबंधन का कब्जा

बेंगलुरु। कर्नाटक में शनिवार को हुए उपचुनावों के हुए मतदान के नतीजों में लगभग कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन ने अपनी जीत दर्ज करवा ली है। जबकि भाजपा को बड़ा झटका लगा है। कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन ने 5 सीटों में से चार सीटों पर अपना कब्जा कर लिया है। भाजपा के हिस्से में एक ही सीट आई है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी की पत्नी अनिता रामनगर विधानसभा सीट से विजयी घोषित हुई, जबकि कांग्रेस के आनंद न्यामगौड़ा जामखंडी विधानसभा सीट पर चुनाव जीत गए हैं। वहीं, भाजपा के कब्जे वाली बेल्लारी लोकसभा सीट पर कांग्रेस के वी.एस. उगरप्पा ने अपना कब्जा कर लिया है।

 
मांड्या में जद (एस) के शिवरामे गौड़ा ने भाजपा उम्मीदवार को शिकस्त दी। भाजपा केवल शिमोगा लोकसभा सीट पर ही अपना कब्जा कर पाई। शिमोगा लोकसभा सीट पर भाजपा प्रदेश इकाई के अध्यक्ष बी.एस. येदियुरप्पा के बेटे बी.वाई. राघवेंद्र ने जीत हासिल की है। लोकसभा की जिन तीन सीटों पर उपचुनाव हुए हैं, उनमें भाजपा के पास शिमोगा और बेल्लारी सीट थी, जबकि जद (एस) के हिस्से में मांड्या सीट थी।
 
वहीं, सुबह जैसे ही नतीजों के रुझान आए कांग्रेस के कार्य़कर्त्ताओं ने पार्टी दफ्तर के बाहर जश्न मनाना शुरू कर दिया। राज्य के पूर्व सीएम सिद्धारमैया ने इस जीत के लिए लोगों को धन्यवाद देते हुए कहा कि यह जनता की तरफ से हमें 'दिवाली गिफ्ट' है।
 
भाजपा के लिए कांग्रेस और जेडीएस खतरे की घंटी साबित हुई है। वहीं, राज्य में जनता का मूड भी सामने आया है कि वहां भाजपा के लिए जगह नहीं है। अगर कांग्रेस और अन्य दलों का लोकसभा चुनाव 2019 में भी महागठबंधन हो गया तो भाजपा के लिए यह बहुत बड़ी राजनीतिक समस्या बन सकता है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS