ब्रेकिंग न्यूज़
मनसे प्रमुख राज ठाकरे पूछताछ के लिए पहुंचे ईडी दफ्तर, दफ्तर के बाहर धारा-144हजारों के तादाद में युवक-युवतियां, महिलाओं समेत आम जनों ने ली भाजपा की सदस्यताआशीष परियोजना डंकन अस्पताल रक्सौल के द्वारा पनटोका पंचायत भवन के प्रांगण में नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजनएक दिवसीय प्रखंड स्तरीय कृषि समन्यवय कार्यक्रम रक्सौल के कृषि भवन में आयोजित, योजनाओं के बारे में किसानों को दी जानकारीपरिवार नियोजन पखवाड़ा के दौरान 429 महिलाओं ने कराई बंध्याकरण, आशा कार्यकर्ता व एएनएम का कार्य सराहनीयट्रेन की छत पर चढ़कर युवक ने किया ड्रामा, हिरासत में लेकर पुलिस कर रही है पूछताछरवीना टंडन ने किया खुलासा, कहा- मेरे पिता को नहीं लगता था कि मैं कभी एक्ट्रेस बन पाऊंगीगर्भवती महिलाओं को प्रसव पूर्व व प्रसव के बाद बेहतर देखभाल के लिए की जाती है काउंसलिंग
राष्ट्रीय
राफेल विमान सौदे पर कांग्रेस का संसद में फिर हंगामा
By Deshwani | Publish Date: 10/8/2018 12:58:16 PM
राफेल विमान सौदे पर कांग्रेस का संसद में फिर हंगामा

नई दिल्ली। संसद के मॉनसून सत्र के आखिरी दिन ​विपक्ष का जोरदार हंगामा देखने को मिला। कांग्रेस समेत कई विपक्षी पार्टियों ने राफेल डील मुद्दे पर संसद के बाहर विरोध प्रदर्शन किया जिसमें यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी भी शामिल हुई। सोनिया गांधी ने राफेल डील मामले की जांच के लिए संयुक्त संसदीय समिति बनाने की मांग की।

राफेल डील के मुद्दे पर संसद परिसर में जारी विरोध प्रदर्शन में कांग्रेस, सीपीआई, राष्ट्रीय जनता दल और आम आदमी पार्टी के सांसदों ने भी हिस्सा लिया। वहीं सोनिया गांधी ने कहा कि तीन तलाक बिल को लेकर कांग्रेस पार्टी की स्थिति पहले से स्पष्ट है, वो इसके आगे कुछ भी नहीं कहेंगी। इसके अलावा कांग्रेस ने सदन में भी इस मुद्दे को उठाया। राज्यसभा में कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार पर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि विपक्ष को एक बार भी मौका नहीं मिला है और हम चाहते हैं राफेल डील पर चर्चा हो, हमने इसपर नोटिस भी दिया है। आजाद ने कहा कि राफेल विश्व का सबसे बड़ा घोटाला है और इसपर जेपीसी बननी ही चाहिए। 

वहीं इसके जवाब में विजय गोयल ने कहा कि संसद कानून बनाने के लिए है न कि बेबुनियाद और झूठे आरोप लगाने के लिए। उन्होंने कहा कि आप प्रधानमंत्री पर झूठे आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि आप लोगों ने सदन में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को बोलने नहीं दिया, किसानों के मुद्दे पर चर्चा नहीं होने दी गई। गोयल ने कहा कि सदन में किसी को प्रधानमंत्री पर झूठे आरोप लगाने का अधिकार नहीं है। 

 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS