ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी में विभिन्न मुहल्लों में विकास दिवस के रूप मनाया गया बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का 70 वां जन्मदिनबैंक से रुपए निकालने के बाद बरतें सतर्कता, मोतिहारी में झपटमारों ने स्कॉर्पियों से उड़ाए 13 लाख नगदसमस्तीपुर: सरायरंजन में शार्ट सर्किट, महादलित के दर्जन भर घर राख, लाखों की क्षतिवाइस एडमिरल अजेंद्र बहादुर सिंह ने फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ, ईएनसी का पदभार संभालाआयकर विभाग ने हैदराबाद के एक प्रमुख फर्मास्युटिकल समूह की ली तलाशीहमें प्रसंस्कृत खाद्य के लिए देश के कृषि क्षेत्र का वैश्विक बाजार में विस्तार करना है: प्रधानमंत्रीभारत-पाकिस्‍तान के बीच नियंत्रण रेखा और अन्‍य सैक्‍टरों पर संयुक्‍त अरब अमारात ने संघर्ष विराम घोषणा का स्‍वागत कियामुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने आज राजधानी पटना में कोविड-19 का लगवाया टीका
नालंदा
गणेश पूजा और मुहर्रम को ले सौहार्द के लिए मुफिदुल इस्लाम की महत्वपूर्ण बैठक
By Deshwani | Publish Date: 12/9/2018 9:23:12 PM
गणेश पूजा और मुहर्रम को ले सौहार्द के लिए मुफिदुल इस्लाम की महत्वपूर्ण बैठक

बिहारशरीफ से मोहम्मद आफताब की रिपोर्ट।
 
अंजुमन मुफिदुल इस्लाम नालंदा की एक महत्वे पूर्ण बैठक अपने कार्यालय आलमगंज में आयोजित की गई। इस मीटिंग की अध्यक्षता अंजुमन मुफिदुल इस्लाम नालंदा के सचिव एस एम मोईनुद्दीन ने की। इस बैठक में गणेश पूजा और मुहर्रम जैसे महत्वपूर्ण पर्व को अमन शांति व भाई चारगी के साथ मनाने का आह्वान किया गया।
 
अंजुमन मुफिदुल इस्लाम ने दोनों साम्प्रदायिक के लोगों से मिलजुल कर प्रेम भाव के साथ मानाने का अनुरोध किया। मीटिंग में ये भी फैसला लिया गया कि अंजुमन के वर्कर शहर के सभी वार्डों में घूम-घूम कर दोनों साम्प्रदाय के लोगों से मिल कर शांति भाव के साथ मिल जुल कर दोनों पर्वों को मानाने की अनुरोध करेंगे। दोनों पर्व गणेश पूजा और मुहर्रम एक साथ होने के कारण अंजुमन मुफिदुल इस्लाम नालंदा की ज़िम्मेवारी और ज्यादा बढ़ जाती है कि दोनों सम्प्रदाय के लोग अपने-अपने पर्व को शांति और भाई चारगी के साथ संपन्न करें।
 
बैठक में ये भी फैसला लिया गया कि जिला प्रसाशन को 24  घंटे सहायता प्रदान करने के लिए तैयार है इस मीटिंग में शहर के महत्व पूर्ण लोगों की उपस्थिति थी जिसमे मीर अरशद ,मोबिन मल्लिक,बुद्धन कुरैशी, मोहम्मद अकबर आजाद आनो कुरैश आदि गण्यमान लोग मौजूद थे सभी ने भी गणेश पूजा और मुहर्रम जैसे महत्वपूर्ण पर्व को शांति के साथ मानाने के लिए अपने -अपने विचार प्रकट किए।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS