ब्रेकिंग न्यूज़
ड्रग्स मामला: रिया-शौविक की जमानत याचिका पर सुनवाई पूरी, बॉम्बे हाई कोर्ट ने फैसला रखा सुरक्षितमहागठबंधन से अलग हुआ रालोसपा, उपेंद्र कुशवाहा ने मायावती की बसपा के साथ मिलकर बनाया नया मोर्चाबिहारी मूल के निर्देशक अभिषेक के इस गाने मे पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे भी आ रहें हैं नज़रबिधान सभा चुनाव को लेकर रक्सौल पुलिस और नेपाल पुलिस अधिकारियों के बीच हुई बैठकहाथरस गैंगरेप पर प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर हमला बोला, कहा-यूपी में कानून व्यवस्था हद से ज्यादा बिगड़ चुकी हैगैंगरेप पीड़िता के भाई ने पुलिस पर लगाया लापरवाही का आरोप, आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा की मांग कीअयोध्या के विवादित ढांचा विध्वंस मामले में फैसला कल, अयोध्या समेत समूचे उत्तर प्रदेश में हाई अलर्टप्रधानमंत्री मोदी ने नमामि गंगे के तहत 521 करोड़ की परियोजनाओं का उत्तराखंड में किया लोकार्पण
बिहार
पूरी दुनिया के राम भक्तों का सपना हुआ साकार : बैद्यनाथ पाठक
By Deshwani | Publish Date: 5/8/2020 9:37:32 PM
पूरी दुनिया के राम भक्तों का सपना हुआ साकार : बैद्यनाथ पाठक

मुजफ्फरपुर/बंदरा। मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्रीराम की जन्मस्थली अयोध्या में मंदिर निर्माण को लेकर हुए भूमिपूजन से बंदरा प्रखंड क्षेत्र के लोगों में हर्ष और उल्लास का माहौल है। मतलुपुर के अतिप्राचीन बाबा खगेश्वरनाथ महादेव मंदिर में इस अवसर को त्योहार के रूप में मनाया गया। मंदिर न्यास समिति की तरफ से बाबा का फूलों के गुम्बज से भव्य महाश्रृंगार कर विशेष पूजा-अर्चना की गई। वहीं इस ऐतिहासिक क्षण पर दीपों से श्रीराम लिखकर प्रभु श्रीराम के जयघोष के साथ आरती की गई। इस दौरान मंदिर परिसर श्रीराम के जय-जयकार से गूंज उठा। शिवशक्ति धाम बरियारपुर में भी इस अवसर पर अष्टयाम का आयोजन किया गया। धर्मादा कमिटी के सदस्यों ने भी मंदिर परिसर में दीप जलाकर खुशी का इजहार किया। वहीं तेपरी ब्रह्मस्थान, सकरी गायत्री स्थल व बंदरा हनुमान मंदिर पर रामचरित मानस पाठ व सुंदरकांड पाठ का आयोजन किया गया।




बाबा खगेश्वरनाथ मंदिर न्यास समिति के बैद्यनाथ पाठक ने कहा की आज का दिन ऐतिहासिक है। मंदिर निर्माण कार्य को लेकर आज जो आधारशिला रखी गयी है उस से पूरी दुनिया के रामभक्तों का सपना साकार हुआ है। वहीं मोदी सरकार के इस ऐतिहासिक कार्य की सराहना करते हुए प्रधान पुजारी आचार्य राजन झा ने कहा कि आस्था की नई किरण प्रस्फुटित हुई है। जिसके लिए सनातन धर्मालंबियों को 500 सालों का इंतजार करना पड़ा है और आज हम उस ऐतिहासिक क्षण के गवाह बने है। मौके पर राजन झा, गणेश झा, राजकुमार झा, दीपक झा, रौशन त्रिवेदी, रामपाल, विकास चौधरी, कमलेश माही सहित पंडा समाज के कई लोग मौजूद थे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS