ब्रेकिंग न्यूज़
चाकू से घायल मोतिहारी, चांदमारी के युवक की मौत, मझौलिया निवासी आरोपित हमलावर को लोगों ने दबोचाबिहार के शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने कहा- सातवें चरण की शिक्षक भर्ती अगले महीने होगी शुरूरक्सौल: आईसीपी लिंक रोड का उच्चाधिकारियों ने किया निरीक्षणबिहार: राज्य के आधे जिलों में बिजली गिरने के साथ भारी बारिश की संभावना, अगले 24 घंटे का अलर्टप्रधानमंत्री ने विद्युत क्षेत्र की पुनर्विकसित वितरण क्षेत्र योजना का शुभारम्भ कियातेजी से फैल रहा मंकीपॉक्स वायरसआयकर विभाग ने मुंबई में तलाशी अभियान चलाया64 प्रतिशत वोटों के साथ द्रौपदी मुर्मू भारत की 15वीं, अब तक की सबसे कम उम्र व पहली जनजातीय महिला राष्‍ट्रपति चुनी गईं
बिहार
मृतकों की संख्या बढ़कर 108, अस्पताल पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश के खिलाफ लगे नारे
By Deshwani | Publish Date: 18/6/2019 1:17:47 PM
मृतकों की संख्या बढ़कर 108, अस्पताल पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश के खिलाफ लगे नारे

मुजफ्फरपुर। बिहार में चमकी बुखार का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। मुजफ्फरपुर में इंसेफेलाइटिस की चपेट में आने से 108 बच्चों की मौत हो चुकी है। वहीं बिहार में अब तक 129 बच्चों की मौत हो चुकी है। इसके चलते मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज मुजफ्फरपुर के कृष्णा मेडिकल कॉलेज एंड अस्पताल (एसकेएमसीएच) का दौरा करने पहुंचे। उन्होंने बच्चों का हालचाल जाना। दौरा करने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मीडिया से कोई बात किए बिना वहां से निकल गए।

 
मुजफ्फरपुर के अस्पताल का दौरा करने पहुंचे नीतीश कुमार का लोगों ने जमकर विरोध किया। इस दौरान लोगों ने राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। स्थानीय लोगों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार वापस जाओ के नारे लगाए। 
 
ज्ञात हो इससे पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को अधिकारियों के साथ उच्चस्तरीय बैठक की थी। बैठक में फैसला लिया गया कि बच्चों के इलाज पर होने वाले खर्च को भी अब सरकार उठाएगी। मृतकों के परिवार को मुआवजे के तौर पर 4-4 लाख रुपए दिए जाएंगे। सरकार ने फैसला किया है कि उनकी टीम हर उस घर में जाएगी जिस घर में इस बीमारी से बच्चों की मौत हुई है। टीम बीमारी के बैक ग्राउंड को जानने की कोशिश करेगी क्योंकि सरकार अब तक यह पता नहीं कर पाई है कि आखिर इस बीमारी की वजह क्या है।
 
इसके अतिरक्त राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने मुजफ्फरपुर जिले में इंसफेलाइटिट वायरस की वजह से बच्चों की मौत की बढ़ती संख्या पर सोमवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और बिहार सरकार से रिपोर्ट दाखिल करने के लिए एक नोटिस जारी किया है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS