ब्रेकिंग न्यूज़
अयोध्या आतंकी हमले पर 14 साल बाद फैसला, चार दोषियों को उम्रकैद, एक बरीचमकी बुखार पीड़ितों की चिकित्सा व्यवस्था से सरकार संतुष्ट, देर से अस्पताल पहुंचने के कारण हुई ज्यादा बच्चों की मौतसड़क हादसे में बाइक सवार तीन लोगों की दर्दनाक मौत, बस में पीछे से मारी टक्करएक दिवसीय स्व अर्जुन बैठा मेमोरियल चेस प्रतियोगिता का आयोजन'गुलाबो सिताबो' की शूटिंग के लिए नवाबों के शहर लखनऊ पहुंचे अमिताभव्हील चेयर पर लोकसभा में पहुंचे मुलायम सिंह यादव, निर्धारित क्रम से पहले ली शपथसुप्रीम कोर्ट में सरकारी डॉक्टरों की सुरक्षा संबंधी याचिका पर सुनवाई टालीभारत ने फिजी को 11-0 से रौंदकर अंतिम चार में पहुंची भारतीय महिला हॉकी टीम
मुजफ्फरपुर
सड़क दुर्घटना के शिकार पांच युवकों का शव शाम में मुजफ्फरपुर आते ही छाया मातम
By Deshwani | Publish Date: 3/1/2018 9:52:01 AM
सड़क दुर्घटना के शिकार पांच युवकों का शव शाम में मुजफ्फरपुर आते ही छाया मातम

मुजफ्फरपुर, (हि.स.) । जमुई में सड़क दुर्घटना के शिकार पांच युवकों का शव मंगलवार को शाम में मुजफ्फरपुर लाया गया। शव आते ही मुजफ्फरपुर में मातम का माहौल छा गया। सदर थाना के गोबरसही चौक पर शव देखने के लिए भारी भीड़ उमड़ पड़ी। मृतकों को देखने के लिए अफरा तफरी मच गयी। स्थानीय लोगों नें गोबरसही में एन एच--28 को जाम कर दिया। इससे पटना बेगूसराय समस्तीपुर के लिए आवागमन ठप पड़ गया। स्थानीय लोग मृतकों के परिजनों के लिए आपदा राहत के तहत चार-चार लाख के मुआवजे की मांग कर रहे थे। सूचना मिलने पर सदर थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर शमसुद्दीन के नेतृत्व में सदर थाना पुलिस और मुशहरी के प्रखंड विकास पदाधिकारी मो. जफरुद्दीन मौके पर पहुंचे और आक्रोशित लोगों को समझा बुझाकर सड़क जाम खत्म कराई गयी। प्रखंड विकास पदाधिकारी ने पाचों परिवारों को तत्काल बीस-बीस हजार रुपये पारिवारिक योजना के तहत भुगतान किया। प्रखंड विकास पदाधिकारी ने कहा कि घटना से संबंधित अभिलेख जमुई से मंगवाकर आपदा राहत भुगतान की प्रक्रिया शुरु की जाएगी। बता दें कि मुजफ्फरपुर के पांच युवक पहली जनवरी को देवघर पूजा करने कार से गये थे। जमुई में कार दुर्घटना में पांचो की मौत हो गयी।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS