ब्रेकिंग न्यूज़
एलओसी के पास राजौरी में धमाका, सेना का एक अफसर शहीदपुलवामा आतंकी हमला: सहवाग का बड़ा ऐलान, कहा- शहीदों के बच्चों की पढ़ाई खर्च उठाने को तैयारपुलवामा कांड: महानायक अमिताभ ने चुप्पी तोड़ी, शहीदों को आर्थिक मदद करने का किया एलानपुलवामा हमला: राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में सर्वदलीय बैठक संपन्न, 3 सूत्रीय प्रस्ताव पासकोर्ट ने रॉबर्ट वाड्रा की गिरफ्तारी पर रोक की अवधि दो मार्च तक बढ़ाईरांची पहुंचा शहीद विजय का पार्थिव शरीर, शहीद की पत्नी और बेटे ने कहा- लेना चाहते हैं शहादत का बदलामध्य प्रदेश: शहीद अश्विनी का पार्थिव शरीर उनके गांव पहुंचा, अंतिम विदाई देने के लिए हजारों लोग जुटेशहीद संजय कुमार को अंतिम विदाई देने जुटे लाखों लोग, लोगों ने बरसाये फूल
जरूर पढ़े
सरकारी योजनाओं ने महिलाओं के हौसलों को दी नई उड़ान
By Deshwani | Publish Date: 10/12/2017 12:37:51 PM
सरकारी योजनाओं ने महिलाओं के हौसलों को दी नई उड़ान

इंदौर, (हि.स.)। मध्यप्रदेश सरकार ने महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए अनेक योजनाएं संचालित की है, इन योजनाओं की मदद से प्रदेश की अनेकों महिलाएं अपने सपनों को पूरा कर रही है। अन्त्यवसायी सहकारी विकास समिति द्वारा सावित्री बाई फुले महिला स्वसहायता समूह विकास योजना के तहत दी गई मदद से इंदौर संभाग के खण्डवा जिले के संत रैदास वार्ड खण्डवा के महिला स्वसहायता समूह की 5 सदस्यों प्रीति, रवीना, सोजर, मनीषा व ऋतु के हौसलों को नई उड़ान मिली है। समूह की सभी सदस्य मिलजुल कर अपने घरों में ब्यूटी पार्लर का व्यवसाय कुशलता पूर्वक संचालित कर रही है।


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ‘‘मुख्यमंत्री दिल से‘‘ कार्यक्रम में समूह की इन पॉंचों सदस्यों द्वारा सफलता पूर्वक व्यवसाय कर आत्मनिर्भर बनने का उल्लेख करते हुए इन महिलाओं की प्रशंसा अपने संबोधन में की थी, जिसका प्रदेश के सभी आकाशवाणी केन्द्रों एवं दूरदर्शन पर गत दिनों प्रसारण हुआ था। मुख्यमंत्री द्वारा की गई प्रशंसा से इन महिलाओं के आत्म विश्वास में निश्चित ही वृद्धि हुई है।


खण्डवा शहर के संत रैदास वार्ड में रहने वाली अनुसूचित जाति वर्ग की 5 महिलाओं द्वारा गठित स्वसहायता समूह की सभी सदस्य आर्थिक रूप से कमजोर जरूर थी लेकिन उनके मन में कुछ कर गुजरने की प्रबल इच्छा थी। उनकी इच्छा शक्ति को अन्त्यवसायी सहकारी समिति द्वारा संचालित सावित्री बाई फुले महिला स्वसहायता समूह विकास योजना से मिली मदद ने और दृढ़ कर दिया। इस योजना के तहत इस 5 सदस्यी समूह को इण्डियन ओवरसीज बैंक के माध्यम से कुल 1 लाख रूपये की मदद मिली थी, जिसमें 50 हजार रूपये ऋण व 50 हजार रूपये अनुदान शामिल था। महिला स्वसहायता समूह की पॉंचों सदस्य प्रीति, रवीना, सोजर, मनीषा व ऋतु की इच्छा मिलजुल कर ब्यूटी पार्लर का व्यवसाय अपने ही घरों में स्थापित करने की थी। सभी महिला सदस्यों को ब्यूटी पार्लर संचालन के लिए जरूरी प्रशिक्षण दिलाया गया। गत एक वर्ष से ये महिलाएं कुशलता पूर्वक अपना व्यवसाय संचालित कर रही है और आत्मनिर्भर होकर अपने परिवार को आर्थिक संबल दे रही है।

 

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS