ब्रेकिंग न्यूज़
जरूर पढ़े
घरेलू उपचार से सर्दियों को यूं कहें अलविदा
By Deshwani | Publish Date: 19/2/2017 1:05:39 PM
घरेलू उपचार से सर्दियों को यूं कहें अलविदा

 नई दिल्ली, (आईपीएन/आईएएनएस)। कड़ाके की ठंड भले ही पड़ना बंद हो गई है, लेकिन सामान्य सर्दी अभी बनी रहेगी। इस मौसम में तेज ठंडी हवाएं भी चलती हैं। मौसम में बदलाव होने से रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है और सर्दी हो जाने के आसार बढ़ जाते हैं, ऐसे में घरेलू उपायों से सर्दी का मुकाबला किया जा सकता है। ’द हिमालया ड्रग कंपनी’ (अनुसंधान एवं विकास केंद्र) के प्रमुख वैज्ञानिक मोहम्मद रफीक ने सामान्य सर्दी से बचने के लिए कुछ आसान से उपचार बताए हैं।

पानी खूब पीना चाहिए, क्योंकि यह गला जाम होने से रोकता है और नमी बनाए रखता है। आम तौर पर पिए जाने वाले आठ गिलास से भी ज्यादा तरल पदार्थों का सेवन करें। इसे पानी, नारियल जूस या सूप के रूप में सेवन करें।
सीने और फेफड़ों को साफ रखने के लिए रोजाना दो बार भाप जरूर लें, इससे आपको सांस लेने में आसानी होगी। एक बड़े बर्तन में गर्म पानी के ऊपर सिर रखकर नाक के जरिए धीरे-धीरे भाप लें। प्रभावी परिणाम के लिए भाप लेने से पहले पानी में पुदीने या नींबू के तेल की कुछ बूंदें मिला लें।
हर्बल कोल्ड बाम सर्दियों के लक्षणों से राहत प्रदान करता है। पुदीना, नीलगिरी या जायफल युक्त बाम में से किसी एक को चुनें। नीलगिरी सीने में जमा कफ को दूर करता है, पुदीना गले की खराश दूर करता है और जायफल रक्त संचार को दुरुस्त करता है।
कफ और गले में सूजन होने पर गुनगुने पानी में नमक मिलाकर गरारा करना सदियों पुराना उपचार है। गुनगुने पानी में चुटकी भर नमक और हल्दी पाउडर मिलाकर दो बार गरारा करें इससे आप बेहतर महसूस करेंगे। गर्म पानी के बोतल से सिकाई करने पर चेस्ट पर जमा हुआ कफ दूर होता है। हॉट वाटर बैग को गर्म पानी से भरकर उसके ऊपर पतला कपड़ा लपेट लें और इससे कंधे और सीने की सिकाई करें। बेहतर परिणाम के लिए सिकाई के पहले आप चाहे तो कोई बाम लगा सकते हैं। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS