ब्रेकिंग न्यूज़
नेपाल: देशभक्त राजभक्त समूह पर्सा ने वीरगंज महाबीर मंदिर के पास सम्मान कार्यक्रम का किया आयोजनमौसम विभाग: चक्रवाती तूफान निवार 11 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से पश्चिम-उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ रहाबंगलादेश: राष्ट्रपिता बंगबंधु शेख मोजिबुर्रहमान को श्रद्धांजलि देने के लिए कल ढाका में लगाई गई एक चित्र प्रदर्शनीटीम इंडिया की जर्सी में बीसीसीआई ने किए कुछ बदलावजान कुमार सानू के बयान पर कुमार सानू का आया रिएक्शन, कुमार सानू ने कहा- मैंने वो सब दिया जो कुछ जान की मां ने मांगा थामहापर्व छठ की समाप्ति के बाद जमा हुए जिले के वरिष्ठ क्रिकेट खिलाड़ी, हुआ फैंसी क्रिकेट मैच का आयोजनझारखंड: इन जिलों में कोरोना संक्रमण की दर में हुई काफी वृद्धिकोविड-19: मुख्‍यमंत्री अरविन्‍द केजरीवाल ने आज नई दिल्‍ली में सर्वदलीय बैठक की
बिहार
मोतिहारी के पचपकड़ी में किराना व्यवसायी से 20 लाख की रंगदारी मांगने के दो आरोपी गिरफ्तार, सिम व मोबाइल जब्त, एक फरार
By Deshwani | Publish Date: 13/7/2020 10:12:48 PM
मोतिहारी के पचपकड़ी में किराना व्यवसायी से 20 लाख की रंगदारी मांगने के दो आरोपी गिरफ्तार, सिम व मोबाइल जब्त, एक फरार

 मोतिहारी।  पूर्वी चम्पारण जिले की पचपकड़ी ओपी पुलिस ने बीस लाख की रंगदारी मांगने के आरोप में दो लोगों का गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार दोनों पर ढाका अनुमंडल के पचपकड़ी बाजार स्थित प्रसिद्ध किराना व्यवसायी लक्ष्मीकांत मिश्रा से 20 लाख रुपए रंगदारी मांगने का आरोप लगा है। बताया गया है कि इस साजिश पचपकड़ी निवासी चंदन झा का नाम लिया जा रहा है। जो फरार हो गया है। व्यवसायी मिश्रा से बीते 1 जुलाई को नेपाली नम्बर से फोन करके 20 लाख की रंगदारी मांगी गई थी।

 
पकड़े गए आरोपियों में रक्सौल थाना क्षेत्र के इस्लामपुर गाँव निवासी उमेश साह है। पुलिस का कहना है कि गिरफ्तार उमेश साह के पास से रंगदारी मांगने में इस्तेमाल किया गया नेपाली सीम कार्ड और नेपाली मोबाइल फोन सेट बरामद किया गया है। वहीं इसकी निशानदेही पर पताही थाना क्षेत्र के बखरी बाजार निवासी शशिभूषण पाण्डेय को भी गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस ने बताया कि इस रंगदारी मांगने के मुख्य साजिश कर्ता पचपकडी़ ओपी  क्षेत्र के सोरपनिया गाँव निवासी चंदन झा फरार हो गया है। जिसकी तलाश जारी है। ओपी अध्यक्ष प्रमोद कुमार यादव ने बताया कि पिछले एक जुलाई को पचपकड़ी के प्रसिद्ध किराना व्यवसायी लक्ष्मीकांत मिश्रा ने थाना को सूचना दी थी कि नेपाली नंबर से उनसे बीस लाख रुपये रंगदारी मांगी गई है। रुपए नहीं देने तथा पुलिस को बताने पर जान मारने की धमकी भी फोन पर दी जा रही है। घटना की खबर पाते ही एसपी श्री झा ने पुलिस की टीम गठित कर जांच का आदेश जारी किया था। जांच के दौरान उक्त अपराधी उमेश साह पकड़ा गया है 
 जिस सिम से रंगदारी मांगी जा रही थी उसका नंबर 009779843107192 है। जिसे बरामद कर लिया गया है। एक छोटा मोबाइल सेट जिसका नाम कासी है। उसे भी बरामद किया गया है। यह चाइनीज सेट बताया जा रहा है। 

ओपी अध्यक्ष श्री यादव के अनुसार, व्यवसायी लक्ष्मी कांत मिश्रा ओपी क्षेत्र के सोरपनिया गाँव के निवासी है तथा उसी गाँव के निवासी एवं उनके पड़ोसी व कथित नेता चंदन झा और बखरी के कथित नेता शशिभूषण पाण्डेय ने उक्त व्यवसायी से रंगदारी मांगने की योजना बनाई। इन दोनों ने पूर्व से अपने संपर्क के कुख्यात अपराधी रक्सौल के उमेश साह से संपर्क किया और एक जुलाई से बीस लाख रुपये की रंगदारी मांगी जाने लगी । तकनीकी जांच से पुलिस उक्त मोबाइल नंबर के आधार पर उमेश साह को दबोचा जिसने पूरे प्रकरण की पोल खोल दी है । पुलिस ने बताया कि उसे जेल भेजा जा रहा है तथा तीसरे साजिश कर्ता की तलाश में छापेमारी की जा रही है। पचपकडी़ ओपी पुलिस की इस सफलता पर व्यवसाइयों ने राहत की सांस ली है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS