ब्रेकिंग न्यूज़
झारखंड विधानसभा चुनाव 2019: तीसरे चरण में 1:00 बजे तक 45% से अधिक मतदानआज उच्‍चतम न्‍यायालय में दुष्‍कर्म और हत्‍या के चार आरोपियों की मुठभेड़ में मौत की एसआईटी जांच की याचिकाओं पर होगी सुनवाईएक संसदीय समिति ने कहा है कि सरकार को रसोई गैस पर अधिक सब्सिडी वाली एक और योजना शुरू करने के बारे में करना चाहिए विचारझारखंड में विधानसभा चुनाव 2019: तीसरे चरण का मतदान शुरूमेरे खून का एक – एक कतरा है संविधान विरोधी नागरिकता बिल के खिलाफ : पप्‍पू यादवउड़ीसा में महिलाओं और बच्चों से संबंधित मामलों की सुनवाई के लिए बनाए जाएंगे 45 नई फास्ट ट्रैक अदालतेंअब हम उन्हें चाचा नहीं बल्कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कहेंगे: तेजस्वी यादववेडिंग एनिवर्सरी पर अनुष्का-विराट हुए रोमांटि‍क, शेयर की ये बेहद रोमांटिक तस्वीर
मोतिहारी
चिरैया में मिले अज्ञात शव की हुई पहचान, मोतिहारी के पंजाबी कॉलोनी के थे सोनू
By Deshwani | Publish Date: 13/10/2019 11:35:11 PM
चिरैया में मिले अज्ञात शव की हुई पहचान, मोतिहारी के पंजाबी कॉलोनी के थे सोनू

 
मोतिहारी। चिरैया थाना क्षेत्र के खड़तरी मध्य पंचायत के सेनुवरिया-खड़तरी मार्ग में सेनुवरिया- फेनहारा गांव के बीच से शनिवार को बरामद हुए शव की पहचान हो गई है।  मृतक की पहचान मोतिहारी के ज्ञानबाबू चौक स्थित पंजाबी कॉलनी मुहल्ला के रहने वाले स्व. धर्मनाथ प्रसाद के पुत्र सोनू कुमार के रूप में हुई है। सोनू के माता-पिता का निधन एक दशक पूर्व हो हो चुका है। सोनू दिल्ली में रहकर अपना भरण पोषण करता थे। मोतिहारी मेें उनकी दो बहने पंजाबी कॉलोनी में रहती हैं। हाल ही में सोनू मोतिहारी आए थे अपना घर बनवाने के लिए।
 
 
मृतक की सबसे बड़ी बहन पूजा देवी ने बताया कि उसके पति मोनू कुमार को सोशल मीडिया पर भेजी गई फोटो और अखबार में छपी खबर के आधार पर उसे उने छोटे भाई की मौत की खबर मिली।
 इसके बाद वह रविवार को अपने पति मोनू कुमार, मामा व चाचा के बेटा के साथ चिरैया थाना में पर पहुंची। इसके बाद शव की पहचान करने के बाद उन्होंने बताया कि उसका एकलौता भाई सोनू था। 
 
पूजा देवी ने बताया कि उसके माता-पिता का देहांत 10-12 वर्ष पूर्व ही हो चुकी है। दो बहनें और एक भाई सोनू था। वह दोनों बहन से छोटा और अविवाहित था। वह दिल्ली में प्राइवेट नौकरी कर अपना भरण-पोषण करता था। वह दो माह पूर्व मोतिहारी में स्थित मकान को बनवाने के लिए आया था। 11 तारीख की रात को 10 बजे तक वह घर पर ही था। इसके बाद वह ज्ञानबाबू चौक पर मिट भुजवाने के लिए गया था।
इसके बाद से वह घर वापस नहीं आया। सभी को लगा कि वह किसी दोस्त के यहां चला गया होगा। इसके बाद 12 तारीख को उसके पति मोनू कुमार ने बताया कि सोनू की हत्या कर दी गई है। इधर थानाध्यक्ष रामबाबू प्रसाद ने बताया कि मृतक के परिजनों के पहचान के बाद शव को उनके बहन-बहनोई को सौंप दिया गया है। उन्होंने बताया कि उक्त कांड को लेकर धारा 302 के तहत प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। उन्हें कुछ निशानदेही प्राप्त हई है जिसके आधार पर शीघ्र ही अपराधियों को पकड़ लिया जायेगा।
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS