ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी की छतौनी पुलिस ने लकड़ी लदे ट्रक में छुपाकर रखी भारी मात्रा में शराब जब्त की, 6 गिरफ्तार, झखिया में देनी थी डिलेवरीमोतिहारी के कल्याणपुर में पूर्व प्रमुख के पति की रड व चाकू से गोदकर हत्या, भाजपा जिलाध्यक्ष प्रकाश अस्थाना के छोटे भाई जेपी अस्थाना भी गंभीर घायलसमस्तीपुर: आपसी विवाद में चली गोली से महिला सहित दो जख्मी, गंभीर स्थिति में रेफरअभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत की सीबीआई जांच की मांग को लेकर राज्‍यभर में हुआ प्रदर्शनमोतिहारी में एनएच 28 पर जय माता दी बस की चपेट में आए दो लोग, वाटगंज के मेडिकल प्रैक्टिसनर व भतीजे की मौत, बारिश में छतरी लगाकर राजमार्ग जाममोतिहारी के मधुबन में बारात में चली गोली, गोढ़वा के युवक की मौत, आर्म्स के साथ एक गिरफ्तारमोतिहारी के चकिया ट्रक की चपेट में आकर बाइक सवार दो की मौके पर मौत, तीसरा घायल, लोगों ने रात में ही कर दी सड़क जामसमस्तीपुर में मौत बनकर गिरी आकाशीय बिजली, आठ लोगों की मौत
मोतिहारी
बेल निमंत्रण देने उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़, पंडालों में खुला मां दुर्गा का पट
By Deshwani | Publish Date: 5/10/2019 5:23:48 PM
बेल निमंत्रण देने उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़, पंडालों में खुला मां दुर्गा का पट

रक्सौल।अनिल कुमार। शुक्रवार को बेल निमंत्रण देने के बाद शनिवार को रक्सौल के सभी पूजा पंडालों के सैकड़ों भक्तों ने मां दुर्गा की डोली लेकर बेल निमंत्रण स्थल पर पहुंच माता को अपने साथ लायें। उसके बाद सभी पंडालों में वैदिक मंत्रोचारण के साथ जगत जननी मां दुर्गा की विधिवत पूजा कराते हुए पूर्ण श्रृंगार के बाद मां का पट खोला गया।
 


 

शहर के प्रमुख पूजा स्थलों में नागा रोड दुर्गा पूजा समिति, ब्लाक रोड दुर्गा पूजा समिति, रेलवे दुर्गा पूजा समिति, कौड़िहार् दुर्गा पूजा समिति, मौजे चौक दुर्गा पूजा समिति, नटराज सेवा संगम दुर्गा पूजा समिति, लक्ष्मीपुर दुर्गा पूजा समिति, कोइरिया टोला दुर्गा पूजा समिति, लोहापट्टी दुर्गा पूजा समिति, सुंदरपुर रोड दुर्गा पूजा समिति सहित कई पूजा समितियों द्वारा आयोजित मां अम्बे के इस जुलूस में सैकड़ों महिला, पुरुष, बच्चे एवं युवा के सिर पर माँ दुर्गा लिखी पट्टी एवं युवकों के कंधे पर गमछा शोभा बढ़ा रहा था।
 


 

वहीं नागा रोड दुर्गा पूजा समिति ने  रथ पर मां दुर्गा के साथ भगवान शंकर एवं बजरंग बली की झांकी पूजा स्थल से निकाली। सभी जुलूस मुख्य पथ होते बेल वृक्ष के पास तक भ्रमण कर पुनः पूजा स्थल वापस आया। उसके बाद सभी पंडालों में आचार्यो के वैदिक मंत्रोचारण के साथ जगत जननी मां दुर्गा की विधिवत पूजा कराते हुए पूर्ण श्रृंगार के बाद मां का पट खुला। जिसके बाद पंडाल में भक्तों की भारी हुजूम जुटने लगी। लक्ष्मीपुर स्थित मां मनोकामना माई मंदिर, बीरगंज के गहवा माई मंदिर सहित सभी माता के मंदिरों में सुबह से ही भक्तों की भीड़ थी।                                       

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS