ब्रेकिंग न्यूज़
बिहार में बलात्‍कारियों को गोली मारने वालों को पप्‍पू यादव देंगे 5 लाख, कहा-हैदराबाद एनकाउंटर टीम को देंगे 50-50 हजारभारत ने आज 13वें दक्षिण एशिया खेलों में 2 स्वर्ण सहित 12 पदक जीतेपॉक्‍सो अधिनियम के तहत दोषियों के लिए नहीं होना चाहिए दया याचिका का प्रावधान: रामनाथ कोविंदझारखंड विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में होने वाले चुनाव की तैयारी हुई पूरीलोजपा की पूर्व महिला प्रदेश अध्यक्ष नीलम सिन्हा वीआईपी में शामिलएनकाउंटर पर मायावती बोलीं- हैदराबाद पुलिस से सीख ले दिल्ली-यूपी की पुलिसहैदराबाद गैंगरेप के चारों आरोपियों को पुलिस ने एनकाउंटर में किया ढ़ेरहैदराबाद के दिशा दुष्कर्म और हत्या कांड के चारों आरोपी पुलिस मुठभेड़ में मारे गए
मोतिहारी
पृथ्वी दिवस पर केसीटीसी कॉलेज रक्सौल में हुआ पौधारोपण, वक्ताओं ने इसे पर्यावरण सुरक्षा को जरूरी बताया
By Deshwani | Publish Date: 9/8/2019 9:21:46 PM
पृथ्वी दिवस पर  केसीटीसी कॉलेज रक्सौल में हुआ पौधारोपण, वक्ताओं ने इसे पर्यावरण सुरक्षा को जरूरी बताया


रक्सौल। अनिल कुमार।

वायु एवं जल जीवन के मुख्य प्राण है। जिसकी रक्षा वृक्षों से ही की जा सकती है। इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को अपने जीवन काल में अधिक से अधिक पौधारोपण करना चाहिए। उक्त बातें शुक्रवार को पृथ्वी दिवस के अवसर पर स्थानीय केसीटीसी कॉलेज में राष्ट्रीय सेवा योजना द्वारा आयोजित पौधारोपण समारोह को संबोधित करते हुए प्रधानाचार्य प्रो राजीव कुमार पांडेय ने कही। प्रोफेसर पांडेय ने कहा कि पृथ्वी की रक्षा तभी संभव है जब हम प्रकृति के साथ खिलवाड़ बंद करें। प्रत्येक छात्र-छात्राओं को आगे आकर अपने क्षेत्र में करना चाहिए।


 आज राष्ट्रीय सेवा योजना के तत्वावधान में पौधारोपण समारोह का आयोजन किया गया था। समारोह का संचालन एनएसएस के समन्वयक  प्रो रविशंकर सिंह ने किया। उक्त अवसर पर पर्यावरणविद एवं इग्नू के समन्वयक प्रो अनिल कुमार सिन्हा ने कहा कि प्रकृति के लगातार निर्ममता पूर्वक दोहन करने के कारण पर्यावरण संतुलन बिगड़ गया है। पूरे विश्व में ग्लोबल वार्मिंग दस्तक दे रहा है। जिससे पूरे विश्व में हाहाकार मच गया है। शुद्ध वायु का अभाव हो गया है। भूजल का स्तर नीचे चला गया है।पानी प्रदूषित भी हो गया है। जिसकी रक्षा से ही जीवन की रक्षा की जा सकती है।

 

शिक्षक संघ के सचिव डॉ चंद्रमा सिंह ने कहा कि सृष्टि प्रारंभ से ही मनुष्य का  प्रकृति के साथ अनुनाश्रय संबंध रहा है। पर भौतिकता की चकाचौंध एवं भोगवाद  की संस्कृति ने इस संबंध को तोड़ने का कार्य किया है। प्रो राजकिशोर सिंह ने कहा कि पर्यावरण की रक्षा हम सबों का पुनीत कर्तव्य है। इसलिए सबों को आगे आकर इस कार्य में सहयोग करने की आवश्यकता है। समन्वयक  प्रो रविशंकर सिंह ने बताया कि पूरे कॉलेज परिसर में राष्ट्रीय सेवा योजना वृक्षारोपण करेगी। आम छात्रों को इसके लिए प्रेरित करने का कार्य करेगी। ताकि प्रत्येक छात्र पांच पौधा अपने छात्र जीवन में लगा सके। समारोह में प्रो दिनेश पांडेय, प्रो प्रमोद कुमार सिंहा, डॉक्टर सुधीर कुमार, डॉ वाजुल हक, डॉक्टर बदरे आलम, डॉ विनोद कुमार अग्रवाल, डॉ जिछू पासवान, प्रोफ़ेसर अरुण कुमार श्रीवास्तव,  डॉ अनिल कुमार, अजय कुमार सिंह, जगदीश यादव, शर्मा प्रसाद, अजित ठाकुर, कुमार अमित, शशि भूषण तिवारी, उदयकुमार, संजीत कुमार, चंद्रिका यादव, नागेंद्र प्रसाद, चंद्रिका कुमार, राहुलकुमार, श्री कृष्ण प्रसाद, साधु शरण पासवान व रवि कुमार आदि उपस्थित थे। कुल 50 पौधे लगाये गये।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS