ब्रेकिंग न्यूज़
झारखंड विधानसभा चुनाव 2019: तीसरे चरण में 1:00 बजे तक 45% से अधिक मतदानआज उच्‍चतम न्‍यायालय में दुष्‍कर्म और हत्‍या के चार आरोपियों की मुठभेड़ में मौत की एसआईटी जांच की याचिकाओं पर होगी सुनवाईएक संसदीय समिति ने कहा है कि सरकार को रसोई गैस पर अधिक सब्सिडी वाली एक और योजना शुरू करने के बारे में करना चाहिए विचारझारखंड में विधानसभा चुनाव 2019: तीसरे चरण का मतदान शुरूमेरे खून का एक – एक कतरा है संविधान विरोधी नागरिकता बिल के खिलाफ : पप्‍पू यादवउड़ीसा में महिलाओं और बच्चों से संबंधित मामलों की सुनवाई के लिए बनाए जाएंगे 45 नई फास्ट ट्रैक अदालतेंअब हम उन्हें चाचा नहीं बल्कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कहेंगे: तेजस्वी यादववेडिंग एनिवर्सरी पर अनुष्का-विराट हुए रोमांटि‍क, शेयर की ये बेहद रोमांटिक तस्वीर
बिहार
बाढ़ के पानी में एक ही परिवार के तीन बच्चे बहे, ग्रामीणों ने दो को बचाया, एक की मौत
By Deshwani | Publish Date: 14/7/2019 5:34:13 PM
बाढ़ के  पानी में एक ही परिवार के तीन बच्चे बहे, ग्रामीणों ने दो को बचाया, एक की मौत

मोतिहारी

चिरैया। अर्चना रंजन। प्रखंड के शिकारगंज थाना क्षेत्र के रूपहरा पंचायत के अम्बरीया गांव के पछेयारी टोला गांव के सरेह में रविवार को सुबह करीब 7-8 बजे एक ही परिवार के भाई एवं दो बहन तीनों एक साथ बाढ़ देखने के लिए निकले थे। उसी क्रम में तीनों का पैर तेज रफ्तार से बहती पानी में फिसल गई और सभी तेज पानी में बहने लगे। बच्चों को चिल्लाने की आवाज सुन वहां मौजूद ग्रामीणों ने देखा कि तीन बच्चे पानी के तेज रफ्तार में बह रहे हैं। वहां मौजूद लीगों ने तुरंत पानी में छलांग लगा दी। लोगों ने दो बच्चे को तो बचा लिया। जबकि एक बच्ची की मौत हो गई। 
 
बतादें की गांव के भिखारी राय की पोती व उमेश राय की पुत्री संध्या (7) की मौत बाढ़ की पानी में डूबने से हो गई। बतादें की रविवार की सुबह उमेश राय का पुत्र निक्कू कुमार (10), बंधन कुमारी (9) व संधन उर्फ संध्या कुमारी (7) सभी एक साथ अपने घर के पीछे सरेह में बाढ़ देखने के लिए गए हुए थे। परतापुर-अम्बरीया रोड पर बाढ़ की पानी का बहाव तेज रफ्तार से हो रही थी। उसी क्रम में तीनों का पैर तेज पानी के बहाव में फिसल गया और तीनों पानी में बहने लगे। वहीं मौजूद ग्रामीणों ने तीनों को एकाएक पानी में बहने और उसकी चिल्लाने की आवाज सुन दौड़े और पानी  में छलांग लगा दी। ग्रामीणों ने निक्कू और बंधन को पानी से जिंदा बचा लिया। लेकिन संध्या उर्फ संधन को नही बचा सके। संधन को पानी से निकालने के बाद परिजनों ने उसे तुरंत  रेफरल अस्पताल ढाका लेकर भागे।
 
 लेकिन डॉक्टर ने संधन को मृत घोषित कर दिया। इधर घटना की सूचना मिलते हीं शिकारगंज थाना घटना स्थल पर पहुंच परिजनों से घटना की जानकारी ली। पुआनि ललन कुमार ने आवश्यक पूछ-ताछ जे बाद मृतक संध्या को पोस्टमार्टम के लिए मोतिहारी भेंज दिया।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS