ब्रेकिंग न्यूज़
जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के अनेक भागों में भारी बर्फबारी, उत्तर भारत में भी शीतलहर का प्रकोपपटना गैंगरेप के आरोपित विपुल कुमार और मनीष कुमार ने कोर्ट में किया सरेंडर, अभी भी दो फरारनागरिकता संशोधन विधायक किसी भी हालत में पश्चिम बंगाल में लागू नहीं होगा: ममता बनर्जीस्ट्रीट डांसर 3d में ऐसा होगा श्रद्धा कपूर का लुक, वरुण धवन ने शेयर किया पहला पोस्टरसमस्तीपुर के दलसिंहसराय में महिला से दुष्कर्म के बाद हत्या, गेहूं के खेत में मिला शवराजधानी दिल्ली सहित उत्तर भारत के कई इलाकों में भारी वर्षा, उत्तराखंड के कुछ हिस्सों में रेड अलर्ट जारीपीएम मोदी ने संसद भवन पर आतंकी हमले में शहीदों को दी श्रद्धांजलिनागरिकता संशोधन विधेयक 2019 को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी मंजूरी
बिहार
अनियंत्रित बस ने मारी ठोकर, पिता की मौत, पुत्र घायल
By Deshwani | Publish Date: 2/7/2019 11:04:08 PM
अनियंत्रित बस ने मारी ठोकर, पिता की मौत, पुत्र घायल

पिपराकोठी के चाँदसरैया में सड़क जाम में खड़ी वाहनों की कतारें व जाम करते लोग

मोतिहारी। पिपराकोठी। सौरभ राज। थाना क्षेत्र के राजमार्ग 28, चाँदसरैया ओवर ब्रिज के समीप तेज रफ्तार में जा रही शीतबसन्त नामक बस के लापरवाह चालक ने ओवर टेक चक्कर मे दो लोगों को ठोकर मार कर भाग निकला। जिसमे एक व्यक्ति का इलाज के लिए ले जाने के क्रम में मौत हो गई है। घटना करीब 9:30 बजे के आसपास की है। घटना के बाद में आक्रोशित लोगों ने मोतिहारी से शव को पुनः घटना स्थल पर लाकर राजमार्ग 28 को साढ़े तीन घंटे तक जाम रखा। 

 
घटना के संबंध में बताया जाता है कि चाँदसरैया गांव निवासी जोखा सहनी के पुत्र श्रीभगवान सहनी व उनके पुत्र करण कुमार पीपराकोठी से मछली बेंच कर अपने घर वापस लौट रहा था कि मोतिहारी से मुजफ्फरपुर की दिशा में जा रही शीतबसंत नामक बस संख्या बीआर06पीडी/ 1796 के लापरवाह चालक उसी कम्पनी के दूसरे बस से ओवर टेक के चक्कर में सड़क के विपरीत साइड में जाकर दोनों पिता-पुत्र को ठोकर मार कर भाग निकला। घटना के बाद ग्रामीणों के सहयोग से दोनों को इलाज के लिए मोतिहारी भेजा गया। जिसमे श्रीभगवान सहनी की मौत रास्ते में ही हो गई। वही करण कुमार की स्थिति ठीक बताई जा रही है। ग्रामीणों ने पुनः शव को घटना स्थल पर लाकर सड़क जाम कर प्रदर्शन करना आरंभ कर दिया।
 
 सूचना पर पहुंचे सीओ भास्कर कुमार मंडल, प्रभारी थानाध्यक्ष मो शकील अहमद को जाम को छुड़ाने में काफी मशक्कत करनी पड़ी। स्थानीय पैक्स अध्यक्ष सुनील गुप्ता, अवधेश प्रसाद व हेमंत कुमार के पहल पर साढ़े तीन घंटे बाद परिजन को सीओ ने चार लाख रुपये के चेक दिया तब जाकर जाम समाप्त हुआ और पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल मोतिहारी भेज दिया है। जाम के कारण दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतारें लगी रही और लंबी दूरी के यात्री बसों में सवार यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। 
 
बताया जाता है कि ठोकर मारने के बाद बस पर सवार यात्रियों ने ही जबरन बस के चालक से बस को रुकवा कर चालक की धुनाई कर दिया। बाद में किसी तरह अपने को छुड़ाकर चालक भाग निकला। बाद में पीपराकोठी के ही एक इंचार्ज ने बस को लेकर मुजफ्फरपुर के लिए भाग निकला। महज संयोग ही कहा जायेगा कि जिस तरह से समय पकड़ने के लिए ओवर टेक के चक्कर मे चालक ने जिस तरह से ओवर ब्रिज पर विपरीत साइड में बस को ले जाकर ठोकर मारी है अगर एक फिट भी और ज्यादा बढ़ती तो बड़ी घटना घट जाती और बस पर सवार सभी यात्री के साथ हादसा हो जाता। 
 
उधर मौत की सूचना मिलते ही परिजन सहित आसपास के लोगों में मातम का माहौल है। मृतक के पत्नी का रो-रो कर बुरा हाल है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS