ब्रेकिंग न्यूज़
जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के अनेक भागों में भारी बर्फबारी, उत्तर भारत में भी शीतलहर का प्रकोपपटना गैंगरेप के आरोपित विपुल कुमार और मनीष कुमार ने कोर्ट में किया सरेंडर, अभी भी दो फरारनागरिकता संशोधन विधायक किसी भी हालत में पश्चिम बंगाल में लागू नहीं होगा: ममता बनर्जीस्ट्रीट डांसर 3d में ऐसा होगा श्रद्धा कपूर का लुक, वरुण धवन ने शेयर किया पहला पोस्टरसमस्तीपुर के दलसिंहसराय में महिला से दुष्कर्म के बाद हत्या, गेहूं के खेत में मिला शवराजधानी दिल्ली सहित उत्तर भारत के कई इलाकों में भारी वर्षा, उत्तराखंड के कुछ हिस्सों में रेड अलर्ट जारीपीएम मोदी ने संसद भवन पर आतंकी हमले में शहीदों को दी श्रद्धांजलिनागरिकता संशोधन विधेयक 2019 को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी मंजूरी
मोतिहारी
रक्सौल में मना बलिदान दिवस, वक्ताओं ने श्यामा प्रसाद को प्रखर राष्ट्रवादी बताया
By Deshwani | Publish Date: 23/6/2019 8:18:51 PM
रक्सौल में मना बलिदान दिवस, वक्ताओं ने श्यामा प्रसाद को प्रखर राष्ट्रवादी बताया

 रक्सौल। अनिल कुमार।

पंडित श्यामा प्रसाद मुखर्जी प्रख्यात शिक्षाविद्, कुशल प्रशासक एवं प्रखर राष्ट्रवादी थे। उक्त बातें रविवार को भारती पब्लिक स्कूल में उनके बलिदान दिवस पर श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए भाजपा रक्सौल के जिला उपाध्यक्ष प्रो डॉ अनिल कुमार सिन्हा ने कही। प्रो0 सिन्हा ने कहा कि आज उनकी ही देन है कि बंगाल एवं जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है। उन्हें एक देश में दो झंडा, दो निशान और दो विधान कतई मंजूर नहीं था।
 
जम्मू कश्मीर में परमिट लेकर प्रवेश करना होता था। उन्होंने घोषणा कर 1953 में बिना परमिट वहां प्रवेश  किया। शेख अब्दुल्ला की सरकार ने कैद कर उन्हें मार डाला। प्रोफ़ेसर सिन्हा ने कहा कि अपना बलिदान देकर जम्मू,-कश्मीर बचाने का कार्य किया है। वे 370 धारा के प्रबल विरोधी थे।
 
उक्त अवसर पर बोलते हुए सांसद प्रतिनिधि राज किशोर राय भगत ने कहा कि वे स्वतंत्र भारत के पहले गैर कांग्रेसी मंत्री थे। जिन्हें वित्त मंत्री बनाया गया था। पर सरकार की तुष्टिकरण नीति के विरोध में उन्होंने त्यागपत्र दे दिया। फिर विरोधी पक्ष की भूमिका का निर्वहन करने लगे। भाजयुमो के जिला महामंत्री इंजीनियर प्रवीर रंजन ने कहा कि वे देश विभाजन के प्रबल विरोधी थे। उनका कहना था कि हम सब सांस्कृतिक दृष्टि से एक है, एक रक्त है, एक भाषा है, एक संस्कृति है और एक ही विरासत है। आज पंडित श्यामा प्रसाद मुखर्जी की ही देन है कि पूरे विश्व में सबसे बड़े संगठन के रूप में भारतीय जनता पार्टी राजनीतिक रूप से खड़ी है। पूरे विश्व का मार्गदर्शन करने जा रही है। उक्त अवसर पर उन्हें भावभीनी  श्रद्धांजलि दी गई।

श्रद्धांजलि देने वालों में मनोज शर्मा, प्रभात वर्णवाल, रामबाबू शर्मा, अभिषेक वर्णवाल, मयंकेश्वर कुमार, सुरेश चौहान,  वार्ड पार्षद, बच्चा कुशवाहा, नितेश कुमार, साजन कुमार, धनंजय प्रधान, मनोज कुमार श्रीवास्तव, अशोक कुमार एवम अमोद कुमार श्रीवास्तव आदि प्रमुख थे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS