किशनगंज
अग्निपीड़ित प्रत्येक महादलित परिवार को एक लाख रुपये मुआवजे का ऐलान
By Deshwani | Publish Date: 25/10/2017 5:10:22 PM
अग्निपीड़ित प्रत्येक महादलित परिवार को एक लाख रुपये मुआवजे का ऐलान

खगड़िया, (हि.स.)। मोरकाही थानाक्षेत्र के महादलित बस्ती छमसिया में हुए अग्निकांड के प्रभावित प्रत्येक परिवारों के बीच प्रशासन ने एक-एक लाख रुपये बतौर मुआवजा देने की घोषणा की है। गांव के दबंगों द्वारा महादलित परिवारों के घर जला दिए जाने के आरोप के कारण सियासी राजनीति भी तेज हो गई है।
युवा शक्ति के प्रदेश अध्यक्ष नागेन्द्र सिंह त्यागी ने कहा है कि जन पार्टी के राष्ट्रीय संरक्षक सह युवा शक्ति के राष्ट्रीय अध्यक्ष सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव के आग्रह पर बिहार सरकार द्वारा छमसिया गांव में अग्नि पीड़ित प्रत्येक परिवार को एक-एक लाख रुपये दिए जाने की घोषणा प्रभावित परिवारों के जख्मों पर मरहम के समान है। इसके लिए खगड़िया जअपा की ओर से बिहार सरकार एवं जिला प्रशासन को धन्यवाद दिया जाना चाहिए। त्यागी ने कहा कि हर तरह के साहसिक कदम खगड़िया जिला प्रशासन को भी उठाना चाहिए ताकि पूरी घटना की निष्पक्ष उच्च स्तरीय जांच हो जाए। उन्होंने कहा कि यदि जिला प्रशासन और बिहार सरकार पीड़ित परिवारों के लिए एक कदम साकारात्मक रूप से उठाती है तो सांसद पप्पू यादव पीड़ितों के लिए आगे बढ़कर सौ कदम उठाने को तैयार हैं। 
इधर माकपा के राज्य सचिव अवधेश कुमार ने कहा कि छमसिया गांव में महादलित मुसहरों के 82 घरों को दबंगों ने जला डाला। घरों में रखा सारा सामान लूट लिया गया। उन्होंने कहा कि जबसे सूबे में जदयू और भाजपा के बीच गठबंधन हुआ है, तबसे पूरे बिहार में सामंतों, अपराधियों का मनोबल काफी बढ़ गया है। दलितों, महादलितों एवं कमजोर वर्ग पर हमले बढ़े हैं। उन्होंने कहा कि छमसिया की घटना सामंत-अपराधी और पुलिस गठजोड़ का नतीजा है। कांग्रेस की ओर से छमसिया का दौरा करने वाले जांच दल ने नीतीश सरकार से इस्तीफे की मांग की है जबकि राजद के जांच दल ने आरोप लगाया है कि वहां अभी भी भय और दहशत का माहौल है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS