ब्रेकिंग न्यूज़
दुष्कर्म के दोषी आसाराम को अभी भी उनके अंधभक्त मान रहे पाक साफ, कर रहे हवनदुल्हन ने शादी मंडप में शादी करने से किया इनकार, दूल्हे की दिमागी हालत खराबबिहार सरकार जल्द करें गन्ना किसानों के बकाया का भुगतान : हाइकोर्टनाबालिग से बलात्कार के मामले आसाराम को उम्रकैद, बाकी दोषियों को 20-20 साल की सजाकुत्तों-बंदरों से परेशान हुआ एम्स के डॉक्टर और मरीज, मेनका गांधी को लिखा पत्रमोदी-माल्या पर शिकंजा कसेगी ईडी, संपत्ति कुर्क करने के लिए नए अध्यादेश की तैयारीकर्नाटक चुनाव: जदयू ने जारी की दूसरी लिस्ट, 12 उम्मीदवारों के नामों की घोषणाभारत और चीन के बीच मतभेद विवादों में नहीं बदलना चाहिए : रक्षामंत्री
झारखंड
बायोमैट्रिक्स उपस्थिति नहीं, तो वेतन नहीं
By Deshwani | Publish Date: 22/7/2017 9:46:00 AM
बायोमैट्रिक्स उपस्थिति नहीं, तो वेतन नहीं

खूंटी,  (हि.स.) । खूंटी जिले में पदस्थापित सभी शिक्षकों के लिए अब आधार आधारित बायोमैट्रिक्स उपस्थिति दर्ज करना अनिवार्य कर दिया गया है। इस उपस्थिति प्रणाली के आधार पर ही वेतन की निकासी की जा सकेगी। 
डीसी डाॅ मनीष रंजन ने निर्देश दिया है कि सभी सरकारी माध्यमिक और प्लस टू विद्यालयों के शिक्षकों के साथ-साथ छात्र-छात्राओं की उपस्थिति भी आधार आधारित बायोमैट्रिक्स प्रणाली से दर्ज होगी। डीसी ने कहा कि सभी विभागों में बायोमैट्रिक उपस्थिति दर्ज कराने के लिए उपकरण अधिष्ठापित कराते हुए स्वयं व अपने अधीनस्थ कर्मियों, शिक्षकों से आधार आधारित बायोमैट्रिक्स प्रणाली के जरिये उपस्थिति दर्ज कराने का निर्देश दिया गया है। 
गौरतलब है कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार वित्तीय वर्ष 2017-18 में आधार आधारित बायोमैट्रिक्स उपस्थिति को कोषागार से संबद्ध किया गया है। इसलिए बायोमैट्रिक्स उपस्थिति के आधार पर ही संबंधित शिक्षकों एवं कर्मियों का वेतन भुगतान किया जायेगा। दैनिक उपस्थिति के आधार पर शिक्षकों, शिक्षणेतर कर्मियों का वेतन भुगतान जुलाई माह से करने का निर्देश उपायुक्त ने दिया है। 
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS