ब्रेकिंग न्यूज़
दुष्कर्म के दोषी आसाराम को अभी भी उनके अंधभक्त मान रहे पाक साफ, कर रहे हवनदुल्हन ने शादी मंडप में शादी करने से किया इनकार, दूल्हे की दिमागी हालत खराबबिहार सरकार जल्द करें गन्ना किसानों के बकाया का भुगतान : हाइकोर्टनाबालिग से बलात्कार के मामले आसाराम को उम्रकैद, बाकी दोषियों को 20-20 साल की सजाकुत्तों-बंदरों से परेशान हुआ एम्स के डॉक्टर और मरीज, मेनका गांधी को लिखा पत्रमोदी-माल्या पर शिकंजा कसेगी ईडी, संपत्ति कुर्क करने के लिए नए अध्यादेश की तैयारीकर्नाटक चुनाव: जदयू ने जारी की दूसरी लिस्ट, 12 उम्मीदवारों के नामों की घोषणाभारत और चीन के बीच मतभेद विवादों में नहीं बदलना चाहिए : रक्षामंत्री
झारखंड
सभी एंबुलेंस में जीपीएस सिस्टम लगाने का निर्देश
By Deshwani | Publish Date: 14/7/2017 10:59:12 AM
सभी एंबुलेंस में जीपीएस सिस्टम लगाने का निर्देश

खूंटी,  (हि.स.)। डीसी ने सड़क सुरक्षा को लेकर विशेष निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि सड़क सुरक्षा को लेकर जिला प्रशासन काफी गंभीर है। चिह्नित ब्लैक स्पॉट मरचा मोड़, मैनुगढ़ा मोड़, जोड़ापुल, नील फैक्टरी, तजना पुल, पेलौल पुल व जारंगा पुल जैसे खतरनाक स्थलों को और अधिक हाइलाइटेड करने की आवश्यकता है।
 
डीसी ने अन्य ब्लैक स्पॉट स्थलों को चिह्नित कर आधारभूत संरचना में सुधार कर साइनबोर्ड लगाने को कहा। डीसी ने सड़क सुरक्षा को लेकर पथ निर्माण वं परिवहन विभाग से बैठक करने का निर्देष एसडीओ को दिया। उपायुक्त ने कहा कि जिले में स्थित सभी एम्बुलेंस की सूची उपलब्ध करायी जाये और उन एम्बुलेंसों को हमेशा तैयार रखें, ताकि दुर्घटना के उपरान्त उपचार के लिए एम्बुलेंस की शीघ्र उपस्थिति सुनिश्चित की जा सके। डीसी ने सभी एम्बुलेंसों में जीपीएस सिस्टम लगाने का भी निर्देश दिया, ताकि उनकी अवस्थिति का पता चल सके। 
उन्होंने सिविल सर्जन को एम्बुलेंस के लिए चालकों का रोस्टर बनाने का भी निर्देश दिया है जिससे आवश्कता पड़ने पर एम्बुलेंस एवं चालक दोनों उपलब्ध रहे। ब्लैक स्पॉट स्थलों एवं महत्वपूर्ण चौक-चौराहों में पदाधिकारियों एवं आपात सेवाओं का नंबर उल्लेखित किया जाए, ताकि आवश्यकता पड़ने पर इसकी सेवा ली जा सके। साथ ही जिला प्रशासन का नियंत्रण कक्ष एवं उसका नंबर चौबीस घंटे कार्यरत रहे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS