ब्रेकिंग न्यूज़
दुष्कर्म के दोषी आसाराम को अभी भी उनके अंधभक्त मान रहे पाक साफ, कर रहे हवनदुल्हन ने शादी मंडप में शादी करने से किया इनकार, दूल्हे की दिमागी हालत खराबबिहार सरकार जल्द करें गन्ना किसानों के बकाया का भुगतान : हाइकोर्टनाबालिग से बलात्कार के मामले आसाराम को उम्रकैद, बाकी दोषियों को 20-20 साल की सजाकुत्तों-बंदरों से परेशान हुआ एम्स के डॉक्टर और मरीज, मेनका गांधी को लिखा पत्रमोदी-माल्या पर शिकंजा कसेगी ईडी, संपत्ति कुर्क करने के लिए नए अध्यादेश की तैयारीकर्नाटक चुनाव: जदयू ने जारी की दूसरी लिस्ट, 12 उम्मीदवारों के नामों की घोषणाभारत और चीन के बीच मतभेद विवादों में नहीं बदलना चाहिए : रक्षामंत्री
झारखंड
दतोपंत ठेंगड़ी रोजगार मेले का उद्घाटन
By Deshwani | Publish Date: 24/6/2017 8:03:14 PM
दतोपंत ठेंगड़ी रोजगार मेले का उद्घाटन

खूंटी, (हि.स.) । ग्रामीण विकास मंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा ने कहा है कि आज की नौजवान पीढ़ी पढ़ने-लिखने के बाद सरकारी नौकरी करना चाहती है। युवा राज्य और देश की सेवा करना चाहते हैं, पर सभी को सरकारी नौकरी देना संभव नहीं है। इसलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने युवाओं के लिए कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाकर उन्हें स्वरोजगार से जोड़ने का प्रयास किया है। मंत्री शनिवार को श्रम नियोजन एवं प्रषिक्षण विभाग के तत्वावधान में कचहरी मैदान में आयोजित छठे दंतोपंत ठेंगड़ी रोजगार मेला का उद्घाटन करने के बाद उपस्थित लोगों को बतौर मुख्य अतिथि संबांधित कर रहे थे। 

मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने भी कौशल विकास को बढ़ावा देने के लिए उच्च शिक्षा में कौशल विकास हेतु बजट में बढ़ोतरी की है। उन्होंने कहा कि हमारा युवा वर्ग रोजगार की तलाश में है। सरकार बेरोजगारी को लेकर काफी चिंतित है। जिला प्रशासन की सराहना करते हुए मंत्री ने कहा कि खूंटी जिला प्रशासन लोगों को रोजगार के क्षेत्र से जोड़ने का प्रयास कर रहा है और टीम भावना से कार्य कर रहा है। उन्होंने कहा कि बेरोजगारी दूर करने में निजी क्षेत्र की कंपनियां महत्पूर्ण भूमिका निभा रही है। जिला प्रशासन रोजगार मेला के माध्यम से उन्हें बेहतर मंच प्रदान करा है। बेरोजगार युवक-युवतियां इस अवसर का लाभ उठाएं। मंत्री ने कहा कि कुछ लोग संविधान के नाम पर तरह-तरह की अफवाह फैला रहे हैं। हमारी सरकार संविधान के तहत ही कार्य करते हुए खूंटी को आगे ले जाने के लिए कार्य कर रही है।

डीसी डॉ मनीष रंजन ने कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक है। यह बिरसा मुंडा की धरती है। यहां के युवक-युवतियां उर्जा से ओत-प्रोत हैं। वे जहां भी जायेंगे, उस कंपनी की प्रगति में महत्वपूर्ण भूमिका निभायेंगे। महाराष्ट्र के महापुरुष दतोपंत ठेंगड़ी, जिन्होंने स्वरोजगार को प्रोत्साहित करने में काफी योगदान दिया था, उन्हीं के नाम पर दतोपंत ठेंगड़ी रोजगार मेला का आयोजन किया गया है। उन्होंने युवाओं से अपील की कि आज 20-25 कंपनी इस मेले में भाग ले रही हैं। वे धैयपूर्वक अलग-अलग स्टॉल में जाकर अपनी योग्यता के अनुसार रोजगार का चयन करें।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS