ब्रेकिंग न्यूज़
चमकी बुखार का कहर: अबतक 69 बच्चों की मौत, एक दर्ज़न से अधिक की स्थिति नाज़ुककोपा अमेरिका के पहले मैच में ब्राजील ने बोलिविया को 3-0 से हराया, कुटिन्हो ने दो गोल किएमौनी रॉय 'बोले चूड़ियां' के बाद 'दबंग 3' से भी आउट हुईं, हैरान कर देगी वजहनक्सलियों से लोहा लेते हुए झारखंड में शहीद हुआ भोजपुर का जवान गोवर्धन, परिवार में मचा कोहरामनरेश गोयल की मुश्किलें और बढ़ी, इनकम टैक्स विभाग ने टैक्स चोरी मामले में भेजा समनसपा ने उप्र की बिगड़ रही कानून-व्यवस्था को लेकर राज्यपाल को सौंपा ज्ञापनदो गुटों में हिंसक झड़प, बमबारी और फायरिंग में तीन टीएमसी कार्यकर्ताओं की मौतनीति आयोग की बैठक में भाग लेंगे नीतीश, उठा सकते हैं बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग
जमुई
सेविका-सहायिका ने परियोजना कार्यालय में जड़ा ताला
By Deshwani | Publish Date: 29/3/2017 6:08:59 PM
सेविका-सहायिका ने परियोजना कार्यालय में जड़ा ताला

जमुई/चकाई । अपने लंबित मागों को लेकर आंगनबाड़ी सेविकाओं तथा सहायिकाओं का आंदोलन लगातार जारी है। इस क्रम में आंगनबाड़ी सेविकाओं एंव सहायिकाओं ने बुधवार को बाल विकास परियोजना कार्यालय में ताला बंदी कर आंदोलन की धार तेज कर दी। वहीं तीस मार्च को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पुतला दहन तथा एक्तीस मार्च को मशाल जुलूस निकाला जायेगा। 
बतातें चलें कि सात हजार रुपया मानदेय सेविका के लिए तथा सहायिका के लिए चार हजार रुपया मानदेय बढ़ाने सहित अन्य मांगों को लेकर गत चैबीस मार्च से सेविकाओं एवं सहायिकाओं की हड़ताल जारी है। मौके पर जिला उपाध्यक्ष नीतु कुमारी, चकाई प्रखंड सचिव सोनी कुमारी, अध्यक्ष कुशुम कुमारी, कोषाध्यक्ष इंदू गुप्ता, बंदना देवी, बबीता पांडेय, नीता कुमारी, रानी कुमारी, अशोका कुमारी, केलसी देवी, मीरा देवी, कांती देवी, पुनम कुमारी, सुमनलता, रेखा देवी, मीरा हेंब्रम, आनंदी देवी, मीना टुडू आदि सैकड़ों सेविका एंव सहायिका उपस्थित थी।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS