ब्रेकिंग न्यूज़
प्रवासियों कामगारों से भरी बस मोतिहारी के चकिया में ट्रेक्टर से टकराई, ट्रेक्टर चालक घायल, कई मजदूर चोटिल, जा रही थी सहरसासाजिद-वाजिद जोड़ी के वाजिद खान अब नहीं रहे, कोरोना की वजह से गई जानबिहार में लॉकडाउन के पांचवें चरण की हुई घोषणा, 30 जून तक बढ़ा, कोरोना संक्रमण की संख्या 6,692 हुईजमात उल मुजाहिद्दीन का आतंकी अब्दुल करीम को कोलकता एसटीएफ ने पकड़ा, गया ब्लास्ट मामले में हो रही थी खोजमोतिहारी के झखिया में पुलिस ने घेराबंदी कर की कार्रवाई, शशि सहनी गिरफ्तार, 125 कार्टन अंग्रेजी शराब जब्तभोजपुरी सेंशेसन अक्षरा सिंह का नया गाना ‘कोरा में आजा छोरा’ रिलीज के साथ हुआ वायरलसमस्तीपुर में कोरोना पॉजिटिव का शव जलाने पहुंची पुलिस व मेडिकल टीम पर रोड़ेबाजीमोतिहारी केपीपराकोठी में ट्रक ने मारी बाइक में टक्कर, बाइक सवार दो युवकों की मौत, मृतक दोनों रिश्ते में साला-बहनोई
झारखंड
लातेहार में शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि, डीजीपी ने कहा- नक्सली कहीं भी छीपे हो, जरूर पकड़ेंगे
By Deshwani | Publish Date: 23/11/2019 12:57:55 PM
लातेहार में शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि, डीजीपी ने कहा- नक्सली कहीं भी छीपे हो, जरूर पकड़ेंगे

लातेहार। झारखंड के लातेहार जिले में चंदवा थाना क्षेत्र अंतर्गत लुकोरिया मोड़ के पास शुक्रवार की रात नक्सलियों के हमले में शहीद हुए पुलिस के जवानों को आज लातेहार पुलिस लाइन में श्रद्धांजलि दी गई। 

 
इस मौके पर डीजीपी कमल नयन चौबे ने कहा कि जिन नक्सलियों ने इस कायरतापूर्ण घटना को अंजाम दिया है, उनका पता चल गया है। उन्हें ढूंढ कर मारा जाएगा। डीजीपी ने कहा कि पेट्रोलिंग पार्टी पर कायरतापूर्ण ढंग से हमला कर नक्सली अपनी हताशा का परिचय दिए हैं। सभी नक्सलियों को ट्रेस कर लिया गया है । डीजीपी ने कहा- चुनाव की दृष्टि से काफी एतीहात बरती जा रही है। शांतिपूर्व चुनाव संपन्न करवाया जाएगा। नक्सलवाद के साथ ये एक लड़ाई चल रही है। नक्सलवाद यहां अंतिम पड़ाव पर हैं।
 
डीजीपी शहीद हुए जवानों के परिजनों से मिले और उन्हें आश्वस्त किया कि विभाग उनके साथ है। श्रद्धांजलि कार्यक्रम के दौरान आईजी ऑपरेशन संजय लाटेकर साकेत सिंह पुलिस प्रवक्ता अमोल डी होंकर, डीआईजी जयंत पाल, डीसी जिसान कमर, एसपी प्रशांत आनंद समेत राज्य के कई अन्य वरीय पुलिस पदाधिकारी उपस्थित थे।
 
उल्लेखनीय  है कि शुक्रवार की रात पीसीआर वाहन से पेट्रोलिंग पर निकली पुलिस की टीम पर माओवादियों ने अंधाधुंध फायरिंग की थी। इस घटना में पुलिस बल के एसआई सुकरा उरांव (घाघरा गुमला), होमगार्ड का जवान जमुना प्रसाद (माको लातेहार), शंभू प्रसाद (पल्हा मनिका) और सिकंदर सिंह (होसिर लातेहार) शहीद हो गए थे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS