ब्रेकिंग न्यूज़
प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण अन्‍न योजना को नवंबर तक बढाने की मंत्रिमंडल ने दी मंजूरीराज्यों के चिकित्सकों को एम्स विशेषज्ञ कोविड-19 के बारे में मार्गदर्शन उपलब्ध कराएंगेसमस्तीपुर डीएम ने कहा- जो भी दुकान व मॉल में संचालक व कर्मी बिना मास्क के पाए गए तो उस दुकान व मॉल को सील कर दिया जायेगावीरगंज पुलिस ने भारी मात्रा में नशीली दवा के साथ दो भारतीय व एक नेपाली नागरिक को किया गिरफ्तारमोतिहारी के बंजरिया में पुलिस द्वारा सील मकान से ट्रक पर लादे जा रहे बिजली विभाग से चोरी के तार के साथ वाहन मालिक सहित 7 गिरफ्ताररामगढ़वा मे 13 वर्षीय नाबालिग से घर बुला कर जबरन किया दुष्कर्म, चार नामजदसमस्तीपुर : लद्दाख में शहीद अमन की विधवा को मिली नौकरी, डीएम ने दिया नियुक्ति पत्रसमस्तीपुर : समस्तीपुर में कोरोना से युवा व्यवसायी की मौत, छह लोगों की हो चुकी है अबतक मौत
झारखंड
लालू यादव ने झारखंड हाईकोर्ट में दाखिल की जमानत याचिका, सुप्रीम कोर्ट में हो चुकी है पहले खारिज
By Deshwani | Publish Date: 10/6/2019 3:42:13 PM
लालू यादव ने झारखंड हाईकोर्ट में दाखिल की जमानत याचिका, सुप्रीम कोर्ट में हो चुकी है पहले खारिज

रांची। चारा घोटाले के 4 मामलों के सजायाफ्ता राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने आज जमानत की गुहार लगाते हुए झारखंड हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने चारा घोटाला से जुड़े इन मामलों में उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी थी। तब सीबीआई ने अपने शपथ पत्र में लालू प्रसाद यादव पर जेल अस्पताल से रहकर राजनीति करने का आरोप लगाया था। 

 
इससे पहले अप्रैल महीने में भी लालू प्रसाद की जमानत याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर बड़ा झटका दिया था। सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने राजद सुपीमो को बेल देने से साफ मना करते हुए कहा था कि लालू को बेल देने में खतरे की कोई बात नहीं, बस आप सजायाफ्ता है। इसलिए बेल देने के बारे में नहीं सोच सकते। इसलिए आपकी जमानत याचिका खारिज की जाती है।
 
उच्चतम न्यायालय ने तब लालू प्रसाद यादव के वकील कपिल सिब्बल के उस तर्क को भी खारिज कर दिया कि लालू को बेल देने में कोई खतरा नहीं है। इस पर कोई ने दो टूक कहा था कि उन्हें बेल नहीं दिया जा सकता। झारखंड उच्च न्यायालय में उनकी जमानत याचिका पर सुनवाई जल्द होने की बात कही जा रही है। बहरहाल लालू फिलहाल रांची के जेल-अस्पताल में ही रहेंगे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS