ब्रेकिंग न्यूज़
अत्याधुनिक हथियार बरामदगी मामले में कोटवा निवासी कुख्यात कुणाल को आजीवन कारावास, 42 हजार रुपये का अर्थदंड भी मिलाइस बार का चुनाव मेरे लिए चुनाव है चुनौती नहीं: राधा मोहन सिंहMotihati: सांसद राधामोहन सिंह ने नामांकन दाखिल किया, कहा-मैं तो मोदी के मंदिर का पुजारीमोतिहारी के केसरिया से दो गिरफ्तार, लोकलमेड कट्टा व कारतूस जब्तभारतीय तट रक्षक जहाज समुद्र पहरेदार ब्रुनेई के मुआरा बंदरगाह पर पहुंचामोतिहारी निवासी तीन लाख के इनामी राहुल को दिल्ली स्पेशल ब्रांच की पुलिस ने मुठभेड़ करके दबोचापूर्व केन्द्रीय कृषि कल्याणमंत्री राधामोहन सिंह का बीजेपी से पूर्वी चम्पारण से टिकट कंफर्मपूर्व केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री सांसद राधामोहन सिंह विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करेंगे
झारखंड
मुख्यमंत्री ने दी कोयला सचिव को सलाह, कोयला खदान क्षेत्र में माफियागिरी बंद करने की जरूरत
By Deshwani | Publish Date: 25/8/2018 12:12:34 PM
मुख्यमंत्री ने दी कोयला सचिव को सलाह, कोयला खदान क्षेत्र में माफियागिरी बंद करने की जरूरत

रांची। झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कोयला सचिव को कोयला खदानों की वजह से विस्थापित हुए लोगों के कल्याण के लिए काम करने की सलाह दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोयला खदान क्षेत्र में माफियागिरी बंद करने की जरूरत है। इसके लिए विस्थापित परिवारों को रोजगार से जोड़ने की जरूरत है।

 मुख्यमंत्री ने कहा कि कोयला मंत्रालय को इस दिशा में काम करना होगा। उन्होंने सलाह दी कि विस्थापित परिवारों का एक को-ऑपरेटिव बनायें। इस को-ऑपरेटिव के जरिये उन्हें कोयला ढुलाई का काम दें। इससे बेरोजगार लोग ट्रांसपोर्टेशन के काम से जुड़ेंगे, तो उनकी परिवार की जरूरतें पूरी होंगी। जब लोग कमाने लगेंगे, तो इलाके में अपराध भी कम होंगे।

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि कोयला के ट्रांसपोर्टेशन के लिए आधुनिक तकनीक का सहारा लिया जाये, ताकि इसमें होने वाली गड़बड़ी खत्म हो। उन्होंने सूचना तकनीक के माध्यम से भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने की सलाह दी। सीएम ने शुक्रवार को कोयला सचिव डॉ इंद्रजीत सिंह व कोल कंपनियों के सीएमडी के साथ बैठक में ये बातें कहीं।

बैठक में सीसीएल, बीसीसीएल और ईसीएल के सीएमडी ने अपने-अपने क्षेत्र में हो रहे कार्यों की जानकारी दी। इस दौरान मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील वर्णवाल समेत अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS