ब्रेकिंग न्यूज़
पुलिस मुठभेड़ में मारा गया इनामी अपराधी मुचकुंद, 50 से अधिक मामलों में थी तलाशट्रक-बाइक की भिड़ंत में तीन परीक्षार्थियों की दर्दनाक मौतसचिन पायलट बनाए गए राजस्‍थान के उप मुख्‍यमंत्री, गहलोत होंगे सीएम'सिंबा' के नए गाने 'तेरे बिन..' में नजर आया रणवीर सिंह और सारा अली खान का रोमांसअब नेपाल में हुई नोटबंदी, आज से नहीं चलेंगे 200, 500 और 2000 के 'भारतीय नोट'राफेल डील पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद लोकसभा में हंगामा, कार्यवाही 17 दिसंबर तक स्थगितबीपीएससी 64वीं संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा 16 दिसंबर को, 4.71 लाख से अधिक अभ्यार्थी होंगे शामिलपरिणय सूत्र में बंधे ओलंपियन पहलवान विनेश फोगाट और सोमबीर राठी
झारखंड
ब्रह्मर्षि विकास मंच समिति ने किया प्रो.बी.के.मिश्रा के निधन पर शोक सभा का आयोजन
By Deshwani | Publish Date: 13/6/2018 12:02:20 PM
ब्रह्मर्षि विकास मंच समिति ने किया प्रो.बी.के.मिश्रा के निधन पर शोक सभा का आयोजन

जमशेदपुर। ब्रह्मर्षि विकास मंच केन्द्रीय समिति के द्वारा विगत दिनों पूर्व केन्द्रीय मंत्री एल. पी. शाही एवं ब्रह्मर्षि विकास मंच के संस्थापक सदस्य एवं शिक्षाविद् प्रो. बी. के. मिश्रा के निधन हो जाने पर उनकी दिवंगत आत्मा को श्रद्धांजलि अर्पित करने हेतु शोक सभा का आयोजन साकची में आयोजित किया गया। कार्यक्रम के प्रारंभ में अतिथियों द्वारा दिवंगतों के तस्वीर पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजली दी गई। कार्यक्रम के अंत में दो मिनट का मौन धारण कर उनकी आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की गई ।

केन्द्रीय अध्यक्ष रामप्रकाश पांडे ने कहा कि स्व. एल.पी.शाही सिर्फ ब्रह्मर्षि परिवार के ही नहीं बल्कि पूरे देश के धरोहर थे। उनका योगदान राजनीतिक एवं सामाजिक दृष्टिकोण के अलावे शिक्षा के क्षेत्र में भी अव्वल दर्जे का रहा। बिहार के  श्री कृष्ण मेडिकल कालेज एवं अस्पताल के साथ एस.के.जे.ला कालेज के निर्माण में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही थी। वे एक कुशल राजनीतिज्ञ,प्रशासक, एवं समर्पित समाजसेवी थे। 

प्रो. बी.के. मिश्रा के योगदान को याद करते हुए कहा कि उन्होने जमशेदपुर महिला कालेज में अपनी योगदान दी, साथ ही ब्रह्मर्षि विकास मंच के स्थापना काल से वर्तमान समय तक एक अभिवावक के रुप में सदैव मार्गदर्शन दिया। समाज उनके आदर्शों का अवश्य निर्वाहण करेगी।
कार्यक्रम का संचालन महासचिव योगेन्द्र मौआर ने किया।
आज के कार्यक्रम में गणमाण्य लोगों के अलावे केन्द्रीय पदाधिकारियों सहित कार्यसमिति सदस्य एवं  क्षेत्रीय पदाधिकारी उपलब्ध थे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS