झारखंड
झारखंड: पूजा कर रहे 15 लोगों को कार ने कुचला, 7 की मौत
By Deshwani | Publish Date: 4/3/2018 11:20:57 AM
झारखंड: पूजा कर रहे 15 लोगों को कार ने कुचला, 7 की मौत

चक्रधरपुर। झारखंड के चाईबासा-चक्रधरपुर एनएच 75 पर सड़क किनारे शादी की रस्म की एक पूजा कर रहे लोगों को तेज रफ्तार कार ने कुचल दिया। कार की चपेट में आकर करीब आठ लोगों की मौत हो गई, वहीं आठ लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। बताया जा रहा है कि टक्कर मारने के बाद आरोपी ने कार की स्पीड बढ़ाते हुए मौके से भागने की कोशिश की इस दौरान और लोग उसकी गाड़ी के नीचे आ गए। हालांकि, वो घटनास्थल से भागने में कामयाब नहीं हो सका और लोगों ने उसे पकड़कर धुन दिया। इसके बाद आरोपी युवक को पुलिस के हवाले कर दिया गया। वहीं पुलिस पर आरोपी को बचाने की कोशिश करने का भी आरोप लगाया जा रहा है।

 
 
हाटगम्हरिया और गोईलकेरा के दो आदिवासी परिवार शादी की रस्म निभाने के लिए चक्रधरपुर के बोरदा पुल के किनारे ऐराबोंगा नामक पूजा कर रहे थे। उस समय करीब 20 लोग मौजूद थे। इसी दौरान चक्रधरपुर के बस एसोसियेशन के अध्यक्ष प्रदीप अग्रवाल का बेटा सौरभ तेज रफ्तार से कार चलाते हुए उस रास्ते पर आया और पूजा कर रहे लोगों पर अपनी गाड़ी चढ़ा दी। घटना स्थल पर ही चार लोगों की मौत हो गई।
 
घटना के बाद सौरभ कार सहित भागने के चक्कर में कुछ और लोगों को रौंद दिया, लेकिन भाग नहीं पाया और ग्रामीणों ने उसे पकड़ लिया। लोगों ने उसकी जमकर पिटाई की और फिर उसे पुलिस के हवाले कर दिया। हादसे में गंभीर रूप से घायलों को बेहतर इलाज के लिए जमशेदपुर में भर्ती कराया गया है।
 
हादसे के बारे में पता चलने पर चक्रधरपर के झामुमो विधायक शशि भूषण सामड भी अस्पताल पहुंचे। उन्होंने घटना के लिए सीधे-सीधे पुलिस-प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया। विधायक ने अस्पताल में ही पुलिस को खूब फटकार लगाई। उन्होंने आरोप लगाया की पुलिस आरोपी कार चालक को बचाने का प्रयास कर रही है। विधायक ने मृतक के परिजनों को 10-10 लाख सहित सरकारी नौकरी और घायलों के परिजनों को 5-5 लाख मुआवजा देने की मांग राज्य सरकार से की है। साथ ही बस मालिक के आरोपी बेटे पर हत्या का मुकदमा चलाने की मांग की है। घटना को लेकर रविवार को चक्रधरपुर बंद की घोषणा की गई है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS