ब्रेकिंग न्यूज़
बिहार: समस्तीपुर में एक लापता स्वर्ण व्यवसायी की हत्या, 14 मई से था लापताअश्विनी वैष्णव ने लेह में नाइलिट केंद्र का किया उद्घाटनकान फ़िल्म महोत्सव के रेड कार्पेट पर भारतीय प्रतिनिधिमंडल ने अपनी चमक बिखेरीगृह मंत्री अमित शाह ने असम के में तेज वर्षा से उपजी स्थिति पर चिंता व्‍यक्‍त कीडेफ्लंपिक्‍स खेलों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले भारतीय दल को प्रधानमंत्री मोदी ने दी बधाईथिएटर के बाद अब इस दिन ओटीटी पर आएगी शाहिद कपूर की फिल्म 'जर्सी'पश्चिम चंपारणः बगहा में 14 वर्षीया नाबालिग बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म का प्रयास, नाबालिग बच्ची को चलती गाड़ी के आगे फेंकाबिहार: सीवान में बेखौफ अपराधियों ने लूटपाट के बाद युवक को मारी गोली
जमशेदपुर
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सूर्य मंदिर में जलार्पण कर झारखण्ड वासियों के सुखमय जीवन, अमन चैन और भाईचारे की कामना
By Deshwani | Publish Date: 13/8/2018 3:26:09 PM
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सूर्य मंदिर में जलार्पण कर झारखण्ड वासियों के सुखमय जीवन, अमन चैन और भाईचारे की कामना

जमशेदपुर। आज मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने श्रावण मास की तीसरी सोमवारी के अवसर पर बारीडीह छठ घाट से जल भरकर सिदगोड़ा स्थित सूर्य मंदिर में भगवान शिव का जलाभिषेक किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि राज्य के पर्यटन स्थलों का संपूर्ण विकास करना सरकार की प्राथमिकता है। रजरप्पा, इटखोरी, पारसनाथ, अंजनीधाम, देवघर, बासुकीनाथ एवं मलूटी समेत राज्य के तमाम धार्मिक और सांस्कृतिक पर्यटन स्थलों को विश्वस्तरीय पहचान दिलाने हेतु सरकार प्रतिबद्ध प्रयास कर रही है। इन पर्यटन क्षेत्रों के विकसित होने से राज्य एवं देश के आर्थिक विकास में गति आएगी। विदेशी पर्यटक झारखण्ड आएंगे तो राज्य में रोजगार का सृजन होगा, साथ ही साथ विदेशी मुद्रा भी देश में आएंगे। मुख्यमंत्री ने ये बातें जमशेदपुर में आयोजित शिव यात्रा के संपन्न होने के पश्चात कही।  
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार जिस रफ्तार से पर्यटन क्षेत्रों के विकास कार्य पर बल दिया है, उम्मीद है कि आने वाले दो-तीन वर्षों में विदेशी पर्यटक झारखण्ड के पर्यटन स्थलों में बड़ी संख्या में आएंगे। मुख्यमंत्री शिव यात्रा के दौरान बारीडीह छठ घाट से जल भरकर सिदगोड़ा स्थित सूर्य मंदिर में जलार्पण किया, साथ ही भगवान शिव की पूजा-अर्चना भी की। इस दौरान उन्होंने श्रावण मास की तीसरी सोमवारी के अवसर पर भगवान शिव से झारखण्ड वासियों के सुखमय जीवन, अमन चैन और भाईचारे की कामना की। मुख्यमंत्री ने कामना की कि राज्य के मुख्य सेवक होने के नाते भगवान इतनी शक्ति दें ताकि हम अमीर राज्य झारखण्ड की गोद में पल रही गरीबी को दूर कर सकें।  
राज्य सरकार साफ-सुथरी नीति और नियम के तहत कार्य कर रही है। लोक कल्याणकारी नीति अपना कर ही विकास के रास्ते पर आगे बढ़ रही है। वर्ष 2022 तक समृद्धशाली झारखण्ड का निर्माण ही सरकार का लक्ष्य है। मुख्यमंत्री ने कहा कि धार्मिक मान्यता के अनुसार समुद्र मंथन हुआ था, जिसमें निकले विष को भगवान शिव ने ग्रहण किया था और पूरी सृष्टि को इस विष के दुष्प्रभाव से बचाया था। भगवान शिव के विष ग्रहण करने के पश्चात सभी देवताओं ने उन पर जल चढ़ाया था, इसीलिए श्रावण मास में भगवान शिव के अभिषेक में जल का विशेष महत्व है। मुख्यमंत्री ने मीडिया कर्मियों को बधाई देते हुए कहा कि राज्य की मीडिया ने देवघर के श्रावणी मेले को अंतरराष्ट्रीय पटल पर रखने का कार्य किया है। पर्यटन स्थलों के विकास में मीडिया की भी अहम भूमिका है।
मुख्यमंत्री ने राज्य की नारी शक्ति को भी नमन करते हुए कहा कि राज्य के समग्र विकास में नारी शक्ति का महत्वपूर्ण योगदान होगा। मुख्यमंत्री ने श्रावण मास के तीसरी सोमवारी के अवसर पर देश-विदेश एवं राज्य भर से देवघर पहुंचे कांवड़ि‍या श्रद्धालुओं को अपनी विशेष शुभकामनाएं दी।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS