ब्रेकिंग न्यूज़
बिहार: समस्तीपुर में एक लापता स्वर्ण व्यवसायी की हत्या, 14 मई से था लापताअश्विनी वैष्णव ने लेह में नाइलिट केंद्र का किया उद्घाटनकान फ़िल्म महोत्सव के रेड कार्पेट पर भारतीय प्रतिनिधिमंडल ने अपनी चमक बिखेरीगृह मंत्री अमित शाह ने असम के में तेज वर्षा से उपजी स्थिति पर चिंता व्‍यक्‍त कीडेफ्लंपिक्‍स खेलों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले भारतीय दल को प्रधानमंत्री मोदी ने दी बधाईथिएटर के बाद अब इस दिन ओटीटी पर आएगी शाहिद कपूर की फिल्म 'जर्सी'पश्चिम चंपारणः बगहा में 14 वर्षीया नाबालिग बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म का प्रयास, नाबालिग बच्ची को चलती गाड़ी के आगे फेंकाबिहार: सीवान में बेखौफ अपराधियों ने लूटपाट के बाद युवक को मारी गोली
झारखंड
बोड़ाम में पुलिस और ग्रामीणों में झड़प, सांसद और विधायक के हस्तक्षेप पर सुलझा मामला
By Deshwani | Publish Date: 13/4/2017 10:46:42 AM
बोड़ाम में पुलिस और ग्रामीणों में झड़प, सांसद और विधायक के हस्तक्षेप पर सुलझा मामला

जमशेदपुर। बोड़ाम थाना क्षेत्र में पोखरिया गांव में छेड़खानी के मामले मे बुधवार को देर रात तक हंगामा होता रहा। इस दौरान ग्रामीण और पुलिस के बीच झड़प भी हुई। वही दौरान पुलिस की ओर से 12 राउंड फायर भी किया गया लेकिन पुलिस इससे इनकार कर रही हैं। सांसद भी दिल्ली से सीधे देर रात बोड़ाम पहुंचे और स्थानीय विधायक के साथ बैठक कर मामला को सुलझाया। उसके बाद ग्रामीण अपने अपने घर लौटे।

छेड़खानी को लेकर हुई घटना
शहर से 70 किलोमीटर दूर पश्चिम बंगाल से सटे सीमा बोड़ाम थाना क्षेत्र मे पोखरिया गांव में मंगलवार की देर शाम को एक महिला ने विशेष समुदाय के 65 वर्षीय व्यक्ति पर छेड़खानी का आरोप लगाया था। इस घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने आरोपी के घऱ को जला दिया। वही आरोपी ग्रामीणो के डर से भाग गया और बुधवार की सुबह बोड़ाम थाना में जाकर आत्मसर्मपण कर दिया। 
इसके बाद पुलिस गांव से आठ लोगो को गिरफ्तार करके थाना ले आई। पुलिस जब दूसरे आरोपी को लाने बोड़ाम पुलिस पोखरिया गांव पहुंची तो पुलिस को ग्रामीणो ने बंधक बना लिया। पुलिस के बंधक बनाने के बाद जैसे ही बोड़ाम थाना प्रभारी विक्रांत कुमार और बीडीओ सुनील कुमार पुलिस बल के साथ पहुंचे तो ग्रामीणो ने उन्हे भी बंधक बना लिया। ग्रामीणो का कहना था कि पहले निर्दोष लोगो को छोड़ा जाए तो वह उन पुलिस पदाधिकारीयो को छोड़ेगे। पुलिस ने उनकी बात को मान ली और सभी युवको को छोड़ दिया गया। जैसे ही छोड़े गए युवक वापस आए तो ग्रामीणों को युवको ने बताया कि उसके साथ मारपीट की गई तो उसके बाद ग्रामीण उग्र हो गए और पुलिस पर पथराव शुरु कर दिया। इस दौरान पुलिस के द्वारा अपने बचाव मे फायरिंग भी की गई। ग्रामीणो के अनुसार पुलिस ने 12 राउंड गोली चलाई। हालाकि यह गोली किसी को लगी नही। बाद में ग्रामीणो ने मुख्यमार्ग को जाम कर दिया। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS