ब्रेकिंग न्यूज़
लोकसभा चुनाव-2019: कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच कल 8 बजे शुरू होगी मतगणना, तैयारियां पूरीभाजपा उम्मीदवार अर्जुन सिंह को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत, 28 मई तक गिरफ्तारी पर लगी रोकसुनीता लाकरा ने पूरे किये 150 अंतरराष्ट्रीय मैच, हॉकी इंडिया ने दी बधाईसलमान की 'भारत' का चौथा गाना 'तुरपेया' हुआ रिलीज, नोरा फतेही का ठुमका हुआ वायरललोकसभा चुनाव: मतगणना कल सुबह आठ बजे से, वीवीपैट की गिनती के कारण परिणाम आने में होगी देरी'साहो' का फर्स्ट लुक पोस्टर जारी, इस 15 अगस्त पर छाएंगे प्रभासअमेरिका युद्ध के बजाय, ईरान के खतरे को रोकना चाहता है: पेंटागन प्रमुखनतीजों से पहले राहुल की कार्यकर्ताओं को नसीहत, मेहनत नहीं जाएगी बेकार, फर्जी एग्जिट पोल से न हों निराश
अंतरराष्ट्रीय
परमाणु समझौता की कुछ प्रतिबद्धताओं को अधिकारिक तौर ईरान ने किया सीमित
By Deshwani | Publish Date: 15/5/2019 6:40:37 PM
परमाणु समझौता की कुछ प्रतिबद्धताओं को अधिकारिक तौर ईरान ने किया सीमित

लंदन। ईरान ने अधिकारिक रूप से साल 2015 में हुए परमाणु समझौते के कुछ प्रतिबद्धताओं को अधिकारिक तौर पर सीमित कर दिया है। यह जानकारी बुधवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली। विदित हो कि पिछले सप्ताह ईरान ने समझौते के पक्षकार चीन, रूस, फ्रांस जर्मनी और ब्रिटेन को अपने निर्णय से अवगत करा दिया था।

 
दरअसल, इस इस्लामिक देश ने अमेरिका के समझौता से एकतरफा अलग होने के एक साल बाद यह कदम उठाया है। समाचार एजेंसी आईएसएनए की रिपोर्ट के मुताबिक, ईरान के इस कदम की पुष्टि देश के परमाणु उर्जा बोर्ड के एक अधिकारी ने भी की है। समझौते के तहत ईरान तीन सौ किलोग्राम तक निम्न स्तर के संवर्धित यूरेनियम और 130 टन तक भारी जल का उत्पादन कर सकता था और इसकी मात्रा अधिक होने पर वह संग्रहण या बिक्री भी कर सकता था।
 
अधिकारी ने कहा कि ईरान अब इस तरह की सीमाओं से नहीं बंधा है। उन्होंने चेतावनी देतेे हुए कहा कि विश्वशक्तियां 60 दिनों के अंदर अमेरिकी प्रतिबंधों से ईरानी अर्थव्यवस्था को संरक्षित करे, अन्यथा वह उच्चस्तर के यूरेनियम और भारी जल का उत्पादन शुरू कर देगा।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS